ताज़ा खबर
 

भाषण के दौरान बिगड़ी केंद्रीय मंत्री की तबीयत, अस्पताल में करवाना पड़ा भर्ती

अनुप्रिया पटेल रविवार को मिर्जापुर में अखिल भारतीय कुर्मी क्षत्रिय महासभा सम्मेलन में शिरकत करने आई थीं। यहां पर भाषण देने के दौरान उनकी तबीयत अचानक खराब हो गई।

मोदी सरकार में परिवार कल्याण राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल (फोटो सोर्स : Indian Express)

मोदी सरकार में परिवार कल्याण राज्यमंत्री का पद संभाल रहीं अनुप्रिया पटेल की तबीयत अचानक बिगड़ गई। एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए अनुप्रिया की तबीयत खराब हो गई। इसके बाद उन्हें जल्द ही वाराणसी के सर सुंदरलाल अस्पताल ले जाया गया। अनुप्रिया पटेल रविवार को मिर्जापुर में अखिल भारतीय कुर्मी क्षत्रिय महासभा सम्मेलन में शिरकत करने आई थीं। यहां पर भाषण देने के दौरान उनकी तबीयत अचानक खराब हो गई। उन्होंने भाषण के दौरान ही कमजोरी की बात बताई। यहां से उन्हें बीएचयू लाया गया।

मोदी सरकार के संगठन में शामिल अपना दल से सांसद अनुप्रिया पटेल की शुरुआती जांच में पता चला है कि उनकी तबीयत ब्लड प्रेशर कम होने के कारण तबीयत खराब हुई। उनकी अन्य जांचें भी की गईं। वह शाम को ही कुछ जरूरी जाचों के लिए दिल्ली रवाना हो गईं। जांच के बाद डाक्टरों ने अनुप्रिया को करीब एक हफ्ते तक आराम की सलाह दी है।

भाषण के दौरान अनुप्रिया पटेल की अचानक तबीयत खराब होने की जानकारी मिलते ही सीएमओ मिर्जापुर डॉ. ओ.पी तिवारी चिकित्सकों के साथ मौके पर पहुंच गए। साथ ही एहतियाद के तौर पर सर सुंदरलाल अस्पताल में भी सूचना दे दी गई। जिला चिकित्साधिकारी तिवारी अनुप्रिया को एंबुलेंस से लेकर बीएचयू अस्पताल पहुंचे। वहीं, चिकित्सा अधीक्षक डॉ. विजय नाथ मिश्र के मुताबिक अस्पताल में 12 चिकित्सकों की टीम की देखरेख में उनका ने प्राथमिक उपचार हुआ और उनकी नौ जांच की गईं। सभी जांचें नार्मल हैं।

वहीं इससे पहले कार्यक्रम में पहुंचीं अनुप्रिया पटेल ने तबीयत खराब होने से पहले अपने भाषण में कहा था कि, आज के अखंड भारत का निर्माण सरदार वल्लभ भाई पटेल की कोशिशों का नतीजा है। उनके योगदान को देश कभी नहीं भूल सकता। हमने सरदार पटेल की विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा बनाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी है।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यूपी: डीएम की अनूठी पहल- सरकारी अस्पताल में करवाई पत्नी की डिलीवरी!
2 देवबंद का फतवा- दुल्‍हन को डोली तक गोद में ना ले जाएं मामा, विदेशी है यह परंपरा
3 अलीगढ़: मस्जिद के गुंबद तोड़े जाने से तनाव, गांव में पुलिस तैनात
ये पढ़ा क्या...
X