ताज़ा खबर
 

बाल-बाल बचीं हेमा मालिनी, आंधी में काफिले के सामने गिरा पेड़

मौसम विभाग ने एक बार फिर सोमवार (14 मई) को तूफान को लेकर अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली-एनसीआर, पंजाब हरियाणा, झारखंड, असम, तेलंगाना समेत कई राज्यों में एक बार फिर तूफान कहर बरपा सकता है।

हेमा मालिनी इस हादसे में बाल-बाल बच गईं थीं।

रविवार (13 मई) को आए आंधी-तूफान ने देश के अलग-अलग राज्यों में भारी तबाही मचाई है। अकेले उत्तर प्रदेश में 18 लोगों के मरने की खबर है। इस बीच उत्तर प्रदेश के मथुरा से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद हेमा मालिनी भी इस आंधी-तूफान में बाल – बाल बच गईं। भाजपा सांसद हेमा मालिनी मांट तहसील के मिट्ठौली गांव में एक जनसभा करने गई थीं। हेमा मालिनी यहां लोगों के बीच केंद्र सरकार के ‘सबका साथ सबका विकास’ के नारे का संदेश देने गई थीं। लेकिन सभा शुरू होने के थोड़ी ही देर बाद मौसम ने अचानक करवट बदल ली। बिगड़ते मौसम को देखते हुए भाजपा सांसद ने सभा छोड़कर वापस लौटने का फैसला किया।

काफिले के आगे आ गिरा पेड़: हेमा मालिनी अपने काफिले के साथ सभा स्थल से निकल गईं। लेकिन सभा स्थल से कुछ ही किलोमीटर की दूरी पर अचानक एक पेड़ उनके काफिले के आगे गिर गया। बड़ी मुश्किल से हेमा मालिनी की गाड़ी उस पेड़ से टकराते-टकराते बची। उस वक्त ड्राइवर ने सूझबूझ दिखाते हुए ब्रेक लगाकर गाड़ी को किसी तरह वहां से निकाला और गाड़ी को नियंत्रित किया। इस हादसे के बाद सांसद के सुरक्षाकर्मियों एवं काफिले में मौजूद कार्यकर्ताओं ने मिलकर रास्ते से पेड़ को हटाया। अलग-अलग मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि रविवार को आए इस तूफान में अब तक 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी हैं।

फिर आएगा तूफान: इधर मौसम विभाग ने एक बार फिर सोमवार (14 मई) को तूफान को लेकर अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली-एनसीआर, पंजाब हरियाणा, झारखंड, असम, तेलंगाना समेत कई राज्यों में एक बार फिर तूफान कहर बरपा सकता है। विभाग के मुताबिक जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश जैसे पहाड़ी क्षेत्रों में 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। हालांकि विभाग के मुताबिक मंगलवार को दिल्ली-एनसीआर को तूफान से राहत मिलेगी, जबकि जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल में 50-70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।

पूर्वी राज्य ओडिशा में भी तूफान कहर ढा सकता है। यहां भारी बारिश की चेतावनी भी दी गई है। हालांकि मौसम विभाग ने कहा है कि सोमवार की हवाओं की रफ्तार में थोड़ी कमी जरूर रहेगी।राजस्थान, मध्य प्रदेश, विदर्भ और मराठवाड़ा में लू के हालात बने रहने की संभावना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App