ताज़ा खबर
 

अलीगढ़: मस्जिद के गुंबद तोड़े जाने से तनाव, गांव में पुलिस तैनात

धार्मिक स्थल पर छेड़छाड़ की जानकारी मिलते ही पुलिस तुरंत सतर्क हो गई और हरदुआगंज और अकबराबाद थाना समेत पीआरवी की गाड़ियां घटना स्तल पर पहुंच गई।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (file photo)

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में एक मस्जिद का गुंबद तोड़े जाने से तनाव हो गया है। यहां हरदुआगंज थाने के तहत आने वाले भोजपुर गांव में शुक्रवार (9 नवंबर, 2018) की रात आबादी दूर बनी मस्जिद का गुंबद किसी अज्ञात शख्स ने तोड़ दिया। शनिवार सुबह मुस्लिम समाज के लोग जब नमाज पढ़ने के लिए पहुंचे तब मस्जिद का गुंबद टूटा देख इलाके में आक्रोश फैल गया। मामले की सूचना मिलने पर पुलिस भी तुरंत सतर्क हो गई है। हालांकि मुस्लिम समुदाय को किसी तरह शांत कराकर मस्जिद का गुंबद दोबारा बनवाया गया है। मिली-झुली आबादी वाले इस गांव में हालात खराब ना हों इसके लिए फोर्स की तैनाती की गई है। अमर उजाला समाचार पत्र की खबर के मुताबिक अतरौली के सीओ के अलावा एसपी देहात भी घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

बता दें कि मस्जिद भोजपुर गांव के बाहर जलाली-पनैठी रोड पर बनी है। इसकी छत पर चारों कौनों पर गुंबद बने हैं। जिसके तीन गुंबद रात के समय तोड़ दिए गए। लोग सुबह नमाज पढ़ने पहुंचे तो घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। धार्मिक स्थल पर छेड़छाड़ की जानकारी मिलते ही पुलिस तुरंत सतर्क हो गई और हरदुआगंज और अकबराबाद थाना समेत पीआरवी की गाड़ियां घटना स्तल पर पहुंच गईं।

मामले को शांत कराने के लिए एसपी देहात मणिलाल पाटीदार, अतरौली के सीओ प्रशांत सिंह और हरदुआगंज के एसओ विनोद सिंह ने मिस्त्री को बुलाकर नई गुंबदों का निर्माण कराया। विवाद आगे ना बढ़े इसके लिए गांव के प्रधान से धार्मिक स्थल के बाहर सीसीटीवी कैमरा लगवाने के लिए कहा है। इसके अलावा सोलर लाइट लगवाने को भी कहा गया है।

प्रशांत सिंह ने बताया कि धार्मिक स्थल पर तोड़फोड़ के मामले में रिपोर्ट दर्ज की गई है। इस तरह असामाजिक घटनाओं को अंजाम देने वाले अराजक तत्वों से पुलिस बहुत सख्ती से निपटेगी। किसी भी हाल में इन हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App