ताज़ा खबर
 

अखिलेश यादव ने बीजेपी पर कसा तंज- राम-राम जपना, पराया काम अपना तो यूजर्स बोले- झूठा समाजवाद जपना, यूपी का सारा माल अपना

अखिलेश यादव ने तंज कसा कि पहले की सरकारों के कामों को अपना काम बताकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और राज्य की योगी आदित्य नाथ सरकार वाहवाही लूट रही है।

Sharda Pratap Shukla news, MLA Sharda Pratap Shukla, Sharda Pratap Shukla latest news, UP cabinet news, Akhilesh yadav Newsगाजियाबाद में एक सभा को संबोधित करते उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव। (फाइल फोटो- PTI )

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर तंज कसा है कि पहले की सरकारों के कामों को अपना काम बताकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और राज्य की योगी आदित्य नाथ सरकार वाहवाही लूट रही है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “राम-राम जपना, पराया काम अपना।” उनकी इस टिप्पणी पर बीजेपी प्रशंसकों ने करारा जवाब दिया है। एक यूजर ने लिखा है कि चलिए कभी तो आपके मुंह से राम नाम निकला। उसने लिखा, “Hahaha कभी तो आपके मुख से राम नाम निकला,वर्ना आपका पूरा साल तो इफ्तार पार्टी में ही गुज़र जाता है।’

एक अन्य यूजर ने अखिलेश यादव पर तंज कसा और लिखा, “झूठा समाजवाद जपना, यूपी का सारा माल अपना ।” ट्विटर पर अखिलेश समर्थकों और विरोधियों में जमकर तर्क-वितर्क हुए । एक यूजर ने योगी आदित्य नाथ को ढोंगी करार दिया और कहा कि वो रात में नमाज अदा करता है तभी तो कहा कि सूर्य नमस्कार और नमाज अदा करना दोनों एक जैसा है। इस पर योगी प्रशंसक ने लिखा, “योगी आदित्यनाथ हमारी आन,बान और शान हैं।’

एक यूजर ने लिखा है हिन्दू राम है तो मुस्लिम रहीम है। इसलिए अपने विचार बदलिए। दूसरे यूजर ने समाज में भाईचारा कायम करने की अपील की है और एक वाकया लिखा कि हिन्दुओं ने अपने मंदिर में बुलाकर मुस्लिमों को इफ्तार कराई है और अब हमलोग माता का भंडारा कराएंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जुनैद की हत्या पर चुप क्यों हैं गृहमंत्री : बृंदा
2 ‘योगी राज’ में भी बेलगाम अपराधी: मेरठ में मुस्लिम व्यापारी के बेटे का अपहरण, 2 करोड़ की फिरौती मांगी
3 यूपी: सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया मुखबिर योजना का एलान, लिंग परीक्षण करने वाले की जानकारी देने पर 2 लाख का ईनाम
ये पढ़ा क्या?
X