ताज़ा खबर
 

मेरठ में दरोगा को पीटा था, बीजेपी पार्षद पर लगीं डकैती की धाराएं पुलिस ने हटाईं

एसएसपी अखिलेश कुमार का कहना है कि, रेस्टारेंट वाले मामले में किसी का कोर्इ सामान लूटा नहीं गया। इस मामले की जांच में ऐसा कोई अपराध नहीं पाया गया।

‘रेस्टारेंट वाले मामले में किसी का कोर्इ सामान लूटा नहीं गया।’ (फोटो सोर्स : video screenshot)

बीते दिनों मेरठ के मोहिद्दीनपुर थाने के चौकी इंचार्ज द्वारा कंकरखेड़ा बाईपास स्थित ब्लैक पेपर रेस्टोरेंट में अपनी वकील मित्र के साथ पहुंच हंगामा करने और होटल में हुई दोनों पक्षों की मारपीट के बाद मुकदमा दर्ज कराया गया था। होटल में शराब के नशे में दोनों के हंगामा करने को लेकर रेस्टोरेंट मालिक और नगर निगम वार्ड संख्या 40 के पार्षद मनीष चौधरी ने दरोगा को पीटा भी था। इसका एक वीडियो भी वायरल हुआ था। इसके बाद इस मामले में पार्षद मनीष चौधरी को जेल भेज दिया गया था।

अब इस केस में भारतीय जनता पार्टी के पार्षद मनीष के खिलाफ दर्ज की गईं डकैती की धाराएं हटा ली गई हैं। पुलिस ने इन दोनों मुकदमों से डकैती की धारा हटा दी है। इन दोनों मुकदमों की विवेचना कर रहे दरोगा रविन्द्र सिंह ने दोनों मुकदमों में से डकैती की धारा हटा दी है और केस डायरी सीजेएम कोर्ट में पेश कर दी थी। बताया गया था कि विवेचना के दौरान डकैती का अपराध नहीं पाया गया। इस मामले में एसएसपी अखिलेश कुमार का कहना है कि रेस्टारेंट वाले मामले में किसी का कोर्इ सामान लूटा नहीं गया। इस मामले की जांच में ऐसा कोई अपराध नहीं पाया गया।

मेरठ के परतापुर थाने का एक चौकी इंचार्ज सुखपाल कंकरखेड़ा बाईपास स्थित ब्लैक पेपर रेस्टोरेंट में शुक्रवार रात अपनी वकील मित्र के साथ पहुंचा था। होटल पहुंचने से पहले ही दोनों ने जमकर शराब पी थी। रेस्टोरेंट नगर निगम वार्ड संख्या 40 के पार्षद मनीष चौधरी का है। दोनों ने अंदर आने के कुछ ही देर में गाली गलौच शुरू कर दी। रेस्टोरेंट लोगों से भरा होने के कारण वहीं के कर्मचारियों ने दोनों को पीछे ले जाकर बैठा दिया।

इस बात पर उखड़ कर दरोगा ने हंगामा शुरू कर दिया। इसकी सूचना रेस्टोरेंट के मालिक तक पहुंची। मालिक के पहुंचते ही महिला वकील ने भी गालियां देने लगी। विरोध करने पर दरोगा की पिस्टल महिला ने निकाल कर मालिक पर तान दी। मनीष ने हंगामा बढ़ता देख सीओ दौराला और कंकरखेड़ा थाने के इंस्पेटर को फोन कर मामले की सूचना दी थी। मौके पर पहुंची पुलिस दोनों को पकड़कर थाने ले गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App