ताज़ा खबर
 

यूपी: सरकारी आदेश करना था पूरा, श्रद्धांजलि देने के लिए फोटो नहीं मिली, स्मार्टफोन पर अटल की तस्वीर डाउनलोड कर चढ़ा दिए फूल

कालेज के प्रिंसिपल ने कहा, जब तस्वीर नहीं मिली तब यह तरीका सुझाया गया। उन्होंने कहा, 'यह तो आस्था की बात है, अटल जी के लिए मैंने आस्था दिखाई'।

Author Updated: December 28, 2018 12:47 PM
शिक्षा विभाग ने सभी स्कूलों को इसके निर्देश जारी कर दिए थे। (फोटो सोर्स : Indian Express)

उत्तर प्रदेश के एक स्कूल में देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई की फोटो मोबाइल में डाउनलोड कर श्रद्धांजलि दी गई। सरकारी आदेश का पालन करने के लिए तस्वीर न मिलने पर यह तरीका निकाला गया। सभी स्कूलों को ऐसा करने के निर्देश विभाग की तरफ से दिया गया था। हालांकि मोबाइल में तस्वीर पर फूल चढ़ाने पर कहा गया कि, ‘यह तो आस्था का विषय है’।

दरअसल, मामला आजमगढ़ का है। माध्यमिक शिक्षा विभाग की तरफ से अटल जयंती समारोह पर पूर्व प्रधानमंत्री के चित्र पर श्रद्धा सुमन भी अर्पित करने का निर्देश था। इसी पर यहां के सराय वृंदावन इंटर कालेज का प्रशासन अटल की तस्वीर नहीं ढूंढ़ पाया। जिसके बाद अटल की तस्वीर मोबाइल पर डाउनलोड कर उसी पर फूल चढ़ा दिए गए। इसके बाद कालेज के प्रिंसिपल देवेंद्र नाथ पांडेय ने इस कार्यक्रम की तस्वीरें वाट्सएप्प ग्रुप में डाल दीं। मोबाइल पर तस्वीर को लेकर प्रिंसिपल देवेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि, अटल की तस्वीर नहीं मिल सकी थी।

कालेज के प्रिंसिपल ने कहा, जब तस्वीर नहीं मिली तब यह तरीका सुझाया गया। उन्होंने कहा, ‘यह तो आस्था की बात है, अटल जी के लिए मैंने आस्था दिखाई’। कॉलेज में हुए इस कार्यक्रम की तस्वीरों के सामने आने के बाद मामले का पता चला। हालांकि इस बारे में डीआईओएस वीके शर्मा ने कहा, मामला मेरी जानकारी में नहीं है। यदि ऐसा हुआ तो वह गलत है।

गौरतलब है कि, योगी सरकार के आदेश के तहत राज्य के सभी स्कूलों में अटल जयंती के मद्देनजर 24 और 25 दिसंबर को डिबेट कम्पटीशन, भाषण और खेल प्रतियोगिता कराई जानी थीं। साथ ही जयंती समारोह के मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि देना भी आदेश में शामिल था। सरकार के आदेश पर माध्यमिक शिक्षा विभाग ने सभी स्कूलों को इसके निर्देश जारी कर दिए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 IS मॉड्यूल: आरोपी के पिता का दावा- रॉकेट लॉन्चर नहीं, ट्रॉली का जैक ले गए NIA अफसर, एक की मां ने कहा- बंदर तक से डरता था