scorecardresearch

यूपीः 2024 में कितनी सीटों का लक्ष्य? एंकर के सवाल पर बोले संजय निषाद- दूसरे सूबों में भी दिखाएंगे जोर, मंत्रालय पर कही ये बात

संजय निषाद ने मंत्रालय को लेकर कहा है कि सेवा सरकार करती है। मंत्रालय जो भी मिलेगा, वो उसी से समाज के लिए सेवा करेंगे।

Up Election 2022, Nishad Party
निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद। (Photo- Facebook Account)

यूपी में मंत्रियों के बीच मंत्रालय का भले ही बंटवारा अभी नहीं हुआ हो लेकिन बीजेपी के सहयोगी दलों में उत्साह जमकर दिख रहा है। एनडीए में शामिल निषाद पार्टी के नेता संजय निषाद अब यूपी के साथ-साथ आसपास के राज्यों में भी चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं।

दरअसल एबीवी न्यूज के एक कार्यक्रम में जब संजय निषाद से एंकर ने पूछा कि 2024 के लोकसभा चुनाव में कितनी सीटों का लक्ष्य है तो उन्होंने कहा कि वो बीजेपी के साथ मिलकर सभी लक्ष्य हासिल कर लेंगे, साथ ही साथ यूपी के पड़ोसी राज्यों बिहार, मध्यप्रदेश, झारखंड और छत्तीसगढ़ में भी अपना जोर दिखाएंगे। संजय निषाद ने कहा- “हमलोग साथ में हैं। हमलोग 403 पर लड़े, पूरा हुआ, आपने देखा होगा प्रचंड बहुमत आई।”

आगे संजय निषाद ने कहा कि इन राज्यों में उनका संगठन पहले से है। वो पहले भी यहां चुनाव लड़ चुके हैं। इन राज्यों में पिछली सरकारों ने उनके समुदाय को उपेक्षित रखा है। अब वो उनके साथ मजबूती से खड़े होंगे।

संजय निषाद से जब मंत्रालय के मामले पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि सेवा सरकार से होती है, मंत्रालय से नहीं। बीजेपी जो देगी, उन्हें मंजूर होगा। निषाद ने कहा- “हमलोग एनडीए के साथ हैं, तो कोई भी क्षेत्र मिलेगा तो उसमें सेवा देकर समाज को लाभ पहुंचाने का काम करेंगे”।

पूर्वांचल के कई जिलों में बीजेपी की करारी हार को लेकर संजय निषाद ने कहा कि कई जिलों में उनका संगठन अभी मजबूत नहीं है। लोकसभा चुनाव तक बाकी जिलों में भी वो अपना संगठन मजबूत कर लेंगे और लोकसभा में बीजेपी उम्मीदवारों को जीत दिलाने का काम करेंगे।

इसके अलावा जब संजय निषाद से यह पूछा गया कि क्या वो ओपी राजभर को फिर से एनडीए में वापस देखना चाहेंगे तो उन्होंने इससे साफ मना कर दिया। निषाद ने कहा कि उनकी कार्यशैली सही नहीं है। वो अमर्यादित भाषाओं का प्रयोग करते हैं। इसलिए वो नहीं चाहेंगे कि राजभर फिर से एनडीए का हिस्सा बनें।

पढें उत्तर प्रदेश (Uttarpradesh News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.