ताज़ा खबर
 

यूपी: मंत्री की बेटी ने नरेंद्र मोदी की सफलता पर लिखी किताब, कर डाली योगी आदित्‍यनाथ की फजीहत

किताब में योगी का वह बयान भी है जो उन्‍होंने बीफ खाने के आरोपी मोहम्‍मद एखलाक की हत्‍या के बाद दिया था।

yogi adityanath meets modiप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गुलदस्ता देते यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ।

बहुजन समाज पार्टी छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में आए उत्‍तर प्रदेश के कद्दावर नेता स्‍वामी प्रसाद मौर्य अब राज्‍य सरकार में मंत्री हैं। उनकी बेटी संघमित्रा मौर्य ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सफलता की कहानी बताने के लिए ‘मोदित्‍व के मायने’ नाम की एक किताब लिखी है। हालांकि इस किताब के कई हिस्‍सों में उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ से जुड़े संदर्भों का जिक्र किया गया है और वे उनकी कट्टर हिंदूवादी छवि को और हवा देते हैं। किताब में योगी के गोरखपुर का सांसद बनने से लेकर मुख्‍यमंत्री पद तक पहुंचने के सफर का जिक्र है। इस बीच हुए कई दंगों, विवादित बयानों और हिंदूवादी रवैये को खुलकर पेश किया गया है। किताब में योगी को कोर्ट करते हुए उनका एक बयान लिखा गया है कि ‘अगर उनके रास्‍ते पर चलें तो देश की हर मस्जिद में हिन्‍दू देवी-देवताओं की मूर्तियां होंगी।’ नवभारत टाइम्‍स की रिपोर्ट के अनुसार, किताब में योगी का वह बयान भी है जो उन्‍होंने बीफ खाने के आरोपी मोहम्‍मद एखलाक की हत्‍या के बाद दिया था।

किताब में हिंदुत्‍व से जुड़े बहुत से उद्धरण दिए गए हैं व भगवा रंग में लेखनी रंगी नजर आती है। एनबीटी के अनुसार, इसी किताब में एक लाइन है कि ‘जो योग का विरोध कर रहे हैं, उन्‍हें भारत छोड़ देना चाहिए। व जो सूर्य नमस्‍कार का विरोध करते हैं, उन्‍हें समुद्र में समाधि ले लेनी चाहिए। देश की जनसंख्‍या बहुत तेजी से बढ़ रही है, इसके जिम्‍मेदार मुस्लिम हैं जो सबसे ज्‍यादा बच्‍चे पैदा कर रहे हैं।’

संघमित्रा ने अपनी किताब में योगी को सलाह देते हुए लिखा है कि ‘उन्‍हें अब अपनी भावनाओं को रोकना चाहिए क्‍योंकि वह अब एक मुख्‍यमंत्री हैं। योगी को राज्‍य में अच्‍छा शासन लाना चाहिए।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यूपी का हाल: छात्रा ने किया छेड़खानी का विरोध तो सरेराह मार दी गोली, चार गिरफ्तार
2 सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचे RSS प्रमुख मोहन भागवत, यमुना एक्सप्रेस-वे पर आपस में भिड़ी गाड़ियां
3 पूर्व सीएम अखिलेश यादव ही रहेंगे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, अगले पांच साल के लिए हुआ चुनाव
ये पढ़ा क्या?
X