ताज़ा खबर
 

यूपी: सपा नेता माविया अली ने कहा- हम पहले मुसलमान हैं फिर भारतीय, अगर कुछ हुआ तो पहले…

माविया ने कहा हम सरकार के इस फैसले को मानने के लिए कतई भी तैयार नहीं है।

al-jamiah al-islamiya madrassa, india news, jansattaतस्वीर का इस्तेमाल प्रतिकात्मक रूप से किया गया है।

समाजवादी पार्टी के नेता माविया अली का कहना है कि हम पहले मुसलमान है और बाद में भारतीय। इस प्रकार का बयान देने के बाद माविया ने आग में घी डालने का काम किया है। यह बयान सपा नेता ने ऐसे समय पर दिया है जब उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा एक सर्कुलर जारी कर यह कहा गया है कि स्वतंत्रता दिवस सभी मदरसों में मनाया जाए और साथ ही इसकी एक वीडियो भी बनाई जाए। देवबंद विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी विधियक ब्रिजेश सिंह से हारने वाले माविया अली ने कहा कि सूबे की सरकार का स्वतंत्रता दिवस मदरसों में मनाने की बात से साफ झलकता है कि यह कदम एंटी-इस्लामिक है।

माविया ने कहा हम सरकार के इस फैसले को मानने के लिए कतई भी तैयार नहीं है। मैं एक बार फिर से यह बात कहना चाहूंगा कि हम पहले मुसलमान हैं और बाद में भारतीय। अगर कोई भी स्थिती इस्लाम के साथ हमारे बीच दरार पैदा करती है तो हम संविधान के द्वारा उसके साथ नहीं खड़े होंगे। हम केवल इस्लाम के लिए खड़े रहेंगे। आपको बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं है जब सपा नेता अपने किसी बयान को लेकर विवादों में आए हों। इससे पहले साल 2015 में माविया ने कहा था कि अगर विश्व हिंदू परिषद की नेता साध्वी प्राची की हत्या कर दी जाती है तो इसमें कोई नुकसान नहीं है।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा था कि सभी मदरसों को निर्देश दिये गये हैं कि वे स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से मनायें और इस कार्यक्रम की वीडियोग्राफी भी करवायें। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने पीटीआई से कहा, ”उत्तर प्रदेश सरकार ने यदि यह आदेश और दिशानिर्देश सभी स्कूल, कालेज और शैक्षणिक संस्थानो के बारे में जारी किये होते तो हमें कोई विरोध नहीं था, लेकिन अगर यह आदेश सिर्फ मदरसों के लिये है तो इसका मतलब यह है कि हमारी राष्ट्रभक्ति को संदेह की नजरों से देखा जा रहा है।”

Next Stories
1 गोरखपुर कांड को शिवसेना ने बताया सामूहिक हत्‍या, कहा- अच्‍छे दिन सिर्फ अमीरों के लिए
2 गोरखपुर: योगी के दौरे से रुका ट्रैफिक, बीमार मां को हाथों में उठाए ट्रामा सेंटर भागा बेटा
3 गोरखपुर में बच्‍चों की मौत से वरुण गांधी दुखी, अपने क्षेत्र में इलाज के लिए देंगे 5 करोड़
ये पढ़ा क्या?
X