ताज़ा खबर
 

राष्ट्रपति चुनाव पर दो खेमों में बंटी समाजवादी पार्टी, एक का समर्थन कोविंद को तो दूसरे ने कहा मीरा कुमार को देंगे वोट

ता दें मुलायम के छोटे भाई शिवपाल पहले ही साफ कर चुके हैं कि वो बड़े भाई की सलाह पर ही मतदान करेंगे।
सपा प्रवक्ता सुनील सिंह के मुताबिक मुलायम सिंह ने निमंत्रण स्वीकार कर लिया है। अखिलेश की मुलायम से मुलाकात कई महीनों बाद हुई है। (एक्सप्रेस फोटो- विशाल श्रीवास्तव)

राष्ट्रपति चुनाव में पसंद के उम्मीदवार को लेकर एक बार फिर समाजवादी पार्टी में विवाद होता नजर आ रहा है। एक तरफ जहां पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव विपक्षी उम्मीदवार मीरा कुमार को समर्थन देने पर जोर दे रहे हैं वहीं पार्टी के वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह और उनके भाई शिवपाल सिंह का झुकाव संभावित तौर पर एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद की तरफ नजर आ रहा है। इस साल जनवरी में पार्टी में आंतरिक कलह के चलते उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पिता मुलायम सिंह यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाकर खुद पार्टी के सर्वेसर्वा बन गए। विवाद में जहां चाचा शिवपाल मुलायम सिंह का समर्थन करते नजर आए वहीं राम गोपाल वर्मा अखिलेश का समर्थन किया। सपा प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने पार्टी विधायकों से मीरा कुमार के पक्ष में मतदान करने के लिए कहा है। ये बात पूर्व लोकसभा सांसद ने शुक्रवार को लखनऊ में एक वार्ता के दौरान कही। मामले में विधानसभा में विपक्ष के नेता राम गोविंद चौधरी ने कहा सभी को मीरा कुमार का समर्थन करना चाहिए। जबकि शिवपाल खेमे के दीपक मिश्रा ने कहा कि रामनाथ कोविंद को हमारा खुला समर्थन है। उन्होंने कहा कि हम राष्ट्रपति उम्मीदवार के रूप में रामनाथ कोविंद का चुनाव किए जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैसले का स्वागत करते हैं।

हालांकि दीपक मिश्रा राष्ट्रपति चुनाव में किसी भी रूप में मतदाता नहीं हैं। जानकारी के लिए बता दें कि पिछले महीने वरिष्ठ सपा नेता और सांसद मुलायम सिंह यादव ने कहा, ‘रामनाथ कोविंद एक अच्छे उम्मीदवार हैं। हमारे उनके साथ बहुत पुराने संबंध हैं। भाजपा ने एक मजबूत उम्मीदवार का चुनाव किया है। हालांकि इसमें सबसे बड़ी बात ये है कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए भाजपा के पास एक मजबूत गठबंधन है।’ बता दें मुलायम के छोटे भाई शिवपाल पहले ही साफ कर चुके हैं कि वो बड़े भाई की सलाह पर ही मतदान करेंगे। मीडिया से बातचीत में शिवपाल ने कहा, ‘नेताजी जो कहेंगे वहीं होगा।’ जानकारी के लिए बता दें कि 20 जून (2017) को मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ और पीएम मोदी की मुलाकात के दौरान मुलायम सिंह यादव भी उपस्थित थे। जहां उन्होंने साफ संकेत देते हुए कहा कि राष्ट्रपति चुनाव में वो रामनाथ कोविंद के पक्ष में मतदान करने जा रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.