ताज़ा खबर
 

…तो 2019 में खत्म हो जाएगा लोकतंत्र! अखिलेश ने रैली में समर्थकों को समझाया

अखिलेश ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर भी निशाना साधा और कहा कि उनकी उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। महंत से सीएम बने योगी 2019 के बाद सीएम नहीं रहेंगे।

अखिलेश यादव (फोटो- पीटीआई)

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि अगर 2019 में फिर से बीजेपी जीत गई तो देश में लोकतंत्र खत्म हो जाएगा। शुक्रवार (14 सितंबर) को इटावा में एक रैली को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि अगर बीजेपी 2019 में जीत जाती है और केंद्र की सत्ता में वापसी करती है तो इस बात की प्रबल संभावना है कि उसके बाद देश में कोई चुनाव नहीं होगा। उन्होंने पार्टी समर्थकों से कहा कि साल 2019 में लोकतंत्र को बचाने का आखिरी मौका है। पूर्व सीएम ने आरोप लगाया कि केंद्र की सत्ताधारी बीजेपी सरकार देश को जातिवाद और संप्रदायवाद की आग में झोक रही है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार दलितों के हित के खिलाफ काम कर रही है।

इससे पहले अखिलेश ने बीजेपी सरकार को तेल की बढ़ती कीमतों, रुपये के गिरते भाव, बढ़ती महंगाई, एलपीजी सिलेंडर के बढ़ते दाम पर घेरा और लोगों से 2019 के लोकसभा चुनावों में बीजेपी को सबक सिखाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार सभी मोर्चों पर फेल हो चुकी है। 2014 के चुनावों में जितने वादे किए थे उनमें कुछ बी पूरा नहीं किया। अखिलेश ने नोटबंदी और जीएसटी का जिक्र करते हुए कहा कि जिन लोगों ने नोटबंदी और जीएसटी लागू किया उनलोगों ने देश की आर्थिक प्रगति रोक दी है।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी ने अपना कालाधन सफेद करने के लिए नोटबंदी लागू किया लेकिन अब लोकसभा चुनाव आ गया है, जनता बीजेपी को करारा जवाब देगी। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बयान पर अखिलेश ने चुटकी ली और कहा कि वो कहते हैं हम पचास साल तक सत्ता से दूर नहीं जाएंगे। लगता है कि उन लोगों को उप चुनाव के नतीजे याद नहीं हैं। तीन सीटों पर उप चुनाव हुए सभी पर बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा। अखिलेश ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर भी निशाना साधा और कहा कि उनकी उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। महंत से सीएम बने योगी 2019 के बाद सीएम नहीं रहेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App