ताज़ा खबर
 

राज बब्बर का सीएम आदित्यनाथ पर वार, कहा- या तो योगी हैं या मनोरोगी हैं

मुख्यमंत्री योगी जितनी बार गोरखपुर जाते हैं उतनी बार या तो वहां पर बच्चों की मौत हो जाती है या फिर मर्डर हो जाता है।"

यूपी कांग्रेस के अध्यक्ष राज बब्बर

इटावा पहुंचे कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा, “जब से उप्र में योगी सरकार आई है, तब से सभी वर्ग परेशान हैं। योगी सरकार पूरी तरह से असफल रही है। योगी जी योगी हैं या मनोरोगी हैं, यही समझ में नहीं आ रहा है।”उन्होंने कहा, “उप्र में बच्चों की मौत में व्यापक इजाफा हुआ है। गोरखपुर में 127 बच्चों की मौत हो गई है, सारे बच्चों की मौत लापरवाही से हुई है। मुख्यमंत्री योगी जितनी बार गोरखपुर जाते हैं उतनी बार या तो वहां पर बच्चों की मौत हो जाती है या फिर मर्डर हो जाता है।”

राज बब्बर ने कहा, “मैं तो उनसे यही कहूंगा कि आप मठ संभालो। अब तो न आप महंत ही रहे और न ही मुख्यमंत्री। योगी मठ का काम सही तरह से कर सकते हैं, लेकिन मुख्यमंत्री के तौर पर योगी काबिल नहीं हैं।” उन्होंने कहा, “उप्र सरकार ने किसानों को कर्जा माफ करने के नाम पर मजाक का पात्र बनाया। एक लाख रुपये का कर्जा माफ करने का शिगूफा छोड़ा और किसी को 13 पैसे तो किसी को एक रुपये माफ करके बड़े-बड़े प्रमाणपत्र दे दिए। योगी को किसानों से पानी मांग कर चुल्लू भर पानी में डूब कर मर जाना चाहिए, क्योंकि वह किसानों के हितैषी नहीं विरोधी हैं।”

सुब्रमण्यम स्वामी के बयान कि अगली दीपावली राम मंदिर में मनाएंगे, पर राजबब्बर ने कहा कि न वह घर के हैं न घाट के।  राजबब्बर आगरा से महोबा जाते समय इटावा में रुके थे।  प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि निकाय चुनाव में कांग्रेस पूरे दमखम के साथ मैदान में उतरेगी। वार्ड से लेकर नगर निगमों तक चुनाव में पार्टी सिंबल देगी और सिंबल पर चुनाव जीतेगी। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में आरक्षण में गड़बड़ी की गई है, लेकिन जनता सरकार को जवाब देगी।

गुजरात चुनाव पर उन्होंने गुरदासपुर उपचुनाव पर कांग्रेस की जीत को याद करते हुए कहा, “अब भाजपा के खराब दिन आ गए हैं, गुजरात में भी कांग्रेस को बड़ी जीत मिलेगी। गुजरात की हवा बदल रही है। आने वाले चुनाव में कांग्रेस दिखा देगी उनका असल हितैषी कौन है और अब शाह और बादशाह का असल रूप सामने आ जाएगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App