ताज़ा खबर
 

Priyanka Gandhi Sonbhadra Visit: पीड़ित परिवारों से मिलीं प्रियंका गांधी, प्रशासन संग गतिरोध खत्म; रविवार को CM जाएंगे सोनभद्र

Priyanka Gandhi Sonbhadra Visit News Updates in Hindi: इसी बीच, कांग्रेस समर्थकों और पुलिस में झड़प की खबर आई है, जबकि सोनभद्र के जिलाधिकारी ने बताया कि जो मिलना चाहते थे, उनसे मिलाया गया है। वहीं, यूपी बीजेपी चीफ स्वतंत्र देव सिंह ने इस मसले को लेकर प्रियंका पर पलटवार किया है। बोले- कांग्रेस के कुकर्म से ही सोनभद्र कांड हुआ है।

Author नई दिल्ली | Jul 20, 2019 22:15 pm
सोनभद्र कांड के पीड़ितों के परिजन को ढांढस बंधाते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी। (फोटोः पीटीआई)

Priyanka Gandhi Sonbhadra Visit News Updates in Hindi: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और मिर्जापुर जिला प्रशासन के बीच गतिरोध शनिवार (20 जुलाई, 2019) दोपहर प्रियंका के हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से भेंट के बाद खत्म हो गया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय राय बोले- प्रियंका और मिर्जापुर जिला प्रशासन के बीच गतिरोध समाप्त हो गया है। उन्होंने हत्याकांड के पीड़ित परिवारों के सदस्यों से मुलाकात कर ली है

राय के मुताबिक, पीड़ित परिवारों की सात महिलाओं सहित कुल 15 लोगों ने प्रियंका से भेंट की और इस मुलाकात के बाद प्रियंका वाराणसी के लिए रवाना हुईं। वहां उन्होंने काशी विश्वनाथ मंदिर और काल भैरव मंदिर में पूजा-अर्चना की। पीड़ित परिवारों से मिलने के बाद कांग्रेस महासचिव ने मीडिया से कहा, “इन बच्चों ने अभिभावक खो दिए हैं। कुछ परिवार ऐसे हैं, जिनके बच्चे और माता-पिता अस्पताल में हैं। ये बीते डेढ़ माह से दिक्कतों के बारे में प्रशासन को बता रहे थे।”

बकौल प्रियंका, “महिलाओं के खिलाफ कई फर्जी मामले भी दर्ज किए गए हैं। इनके साथ जो भी हुआ, बहुत गलत हुआ और इनके साथ घोर अन्याय हुआ है। हम इस घड़ी में इनके साथ हैं और हम इनकी लडाई लड़ेंगे।” ग्रामीणों की मांग पर वह बोलीं कि जिस भी परिवार ने किसी सदस्य को खोया है, उसे आर्थिक सहायता के रूप में 25 लाख रुपए मिलने चाहिए।

उनके अनुसार, “जो पीढ़ियों से जिस भूमि पर खेतीबाड़ी कर रहे हैं, वह उन्हें दी जानी चाहिए। इन लोगों के मामलों की सुनवाई फास्ट ट्रैक आधार पर हो ताकि ये विवाद खत्म हों। निर्दोष गांव वालों के खिलाफ दर्ज मामले वापस लिए जाने चाहिए।” प्रियंका ने इस घटना को नरसंहार करार दिया। बोलीं- लोगों की हत्याएं हुई हैं। अन्याय हुआ है। बच्चों ने मां-बाप खोए हैं और सरकार व प्रशासन ने घटना दबाने की कोशिश की।

Live Blog

Highlights

    20:30 (IST)20 Jul 2019
    मकसद पूरा होने पर बाबा विश्वनाथ और काल भैरव के दर पर प्रियंका

    काशी के काल भैरव मंदिर में शनिवार शाम पूजा-अर्चना करतीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा। (फोटोः पीटीआई)

    20:28 (IST)20 Jul 2019
    पीड़ित परिजन से मिल ली, मेरा मकसद पूरा- प्रियंका

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा शनिवार (20 जुलाई, 2019) को सोनभद्र कांड के पीड़ितों से मिलीं। उन्होंने इस दौरान न केवल पीड़ितों के आंसू पोंछे, बल्कि उनका हाल-चाल भी लिया। प्रशासन पर ताबड़तोड़ आरोप लगाते हुए प्रियंका ने मीडिया से कहा, "प्रशासन को इनकी (पीड़ितों) की रखवाली करनी चाहिए। जब इनके साथ हादसा हो रहा था, मदद करनी चाहिए थी। प्रशासन की मानसिकता मेरी समझ से बाहर है। आप उन पर थोड़ा दबाव बनाइए, आप मेरे पीछे पड़े हैं।"

    उन्होंने आगे कहा, "मेरा मकसद पूरा हो गया, क्योंकि मैं पीड़ितों से मिल चुकी हूं। फिर भी मैं हिरासत में हूं, देखिए अब प्रशासन क्या कहेगा। कांग्रेस घटना में मारे गए व्यक्ति के परिजन को 10 लाख रुपए का मुआवजा देगी।" अब वह बनारस स्थित काशी विश्वनाथ मंदिर और काल भैरव मंदिर में पूजा-अर्चना करने जाएंगी। इसी बीच, कांग्रेसी नेता राजीव शुक्ला समेत कुछ पार्टी नेताओं को हिरासत में ले लिया गया। शुक्ला ने पत्रकारों को बताया- हम एयरपोर्ट पर पहुंचते ही हिरासत में ले लिए लग थे। अब उन लोगों ने हमें चुनार जाने की अनुमति दी है।

    20:12 (IST)20 Jul 2019
    योगी भी मिलेंगे सोनभद्र के पीड़ित परिवारों से

    यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार को सोनभद्र जिले का दौरा करेंगे। वह इस दौरान जमीन विवाद के दौरान हत्याकांड के शिकार पीड़ित परिवारों से भेंट करेंगे। शनिवार को यह जानकारी यूपी सरकार के एक अधिकारी ने दी। अधिकारी के अनुसार, सीएम सोनभद्र की घोरावल तहसील स्थित उम्भा—सपही गांव पहुंचकर सुबह 11.45 बजे मृतकों के परिजनों से भेंट करेंगे।

    उन्होंने आगे कहा- योगी इसके बाद घायलों से मिलकर उनका हालचाल जानेंगे और दोपहर में जिला कलेक्ट्रेट में वह प्रेस को संबोधित करेंगे। बता दें कि ग्राम प्रधान यज्ञदत्त के समर्थकों और गोंड आदिवासियों के बीच घोरावल तहसील में जमीन विवाद को लेकर बुधवार को हुए संघर्ष में 10 लोगों की हत्या कर दी गई थी, जबकि 28 अन्य जख्मी हुए थे।

    17:06 (IST)20 Jul 2019
    ग्रामीणों पर अत्याचार के खिलाफ खड़े होने पर आपका और आदर करने लगा हूं प्रियंका- रॉबर्ट वाड्रा

    रॉबर्ट वाड्रा ने सोनभद्र हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात करने के लिए कांग्रेस नेता और पत्नी प्रियंका गांधी वाड्रा की सराहना की है। कहा है कि ग्रामीणों पर अत्याचार के खिलाफ खड़े होने पर वह उनका और आदर करने लगे हैं। बता दें कि सोनभद्र कांड के पीड़ित परिजन ने कांग्रेस महासचिव से शनिवार को मिर्जापुर के चुनार गेस्टहाउस में मुलाकात की, जहां प्रियंका ने एक रात हिरासत में गुजारी।पार्टी के वरिष्ठ नेता अजय राय ने बताया कि पीड़ित परिवारों के 12 सदस्यों ने कांग्रेस महासचिव से गेस्टहाउस में मुलाकत की। वाड्रा ने ट्वीट किया, ‘‘मैंने करुणा, सहानुभूति और ईमानदारी के आपके गुणों का हमेशा आदर किया है। आज ग्रामीणों पर अत्याचार के खिलाफ खड़े होने पर मैं आपका और आदर करने लगा हूं।’’

    उन्होंने लिखा,‘‘ जब सरकार ने परिवारों का रुदन सुनने से इनकार कर दिया तो तब उन्हें सांत्वना देने के लिए आप वहां थीं। प्रियंका आप वह करें जो देश के लिए सही है।’’ प्रियंका को प्रशासन ने शुक्रवार को सोनभद्र जाने से रोक दिया था और उन्हें हिरासत में ले लिया था।

    15:48 (IST)20 Jul 2019
    लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस की पुरानी परम्परा है- यूपी बीजेपी चीफ

    भारतीय जनता पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर निशाना साधा है। शनिवार को उन्होंने कहा कि वह सोनभद्र हत्याकांड के पीड़ित परिवारों के साथ सहानुभूति दिखाने का ढोंग कर रही हैं। सिंह ने पत्रकारों से कहा कि प्रियंका पीड़ित परिवारों के साथ सहानुभूति दिखाने का ढोंग कर रही हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस की पुरानी परंपरा है।

    उन्होंने कहा, "श्रीमती प्रियंका वाड्रा की भेंट पीड़ित परिवारों से करा दी गई है। इसके बावजूद वह राजनीति कर रही हैं और इसी कारण अब भी धरने पर बैठी हुई हैं। यह कृत्य गरीबों की पीड़ा पर राजनीतिक रोटियां सेकने जैसा है और कांग्रेस को इससे परहेज करना चाहिए।"

    बकौल सिंह, "ऐसा लगता है कि कांग्रेस नेता यह चाहते हैं कि वहां का माहौल और बिगड़े। उन्हें इस बात की परवाह नहीं कि पीड़ितों को न्याय दिलाया जाए।" उन्होंने सोनभद्र की दु:खद घटना पर शोक व्यक्त किया और इस घटना के पीड़ितों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की।

    15:22 (IST)20 Jul 2019
    कांग्रेस के कुकर्म से हुआ सोनभद्र कांडः बीजेपी

    इसी बीच, कांग्रेस समर्थकों और पुलिस में झड़प की खबर आई है, जबकि सोनभद्र के जिलाधिकारी ने बताया कि जो मिलना चाहते थे, उनसे मिलाया गया है। वहीं, यूपी बीजेपी चीफ स्वतंत्र देव सिंह ने इस मसले को लेकर प्रियंका पर पलटवार किया है। बोले- कांग्रेस के कुकर्म से ही सोनभद्र कांड हुआ है।

    15:22 (IST)20 Jul 2019
    TMC प्रतिनिधिमंडल को भी एयरपोर्ट रर रोका गया, धरने पर बैठे डेरेक ओ ब्रायन

    डेरेक ओब्रायन के नेतृत्व में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) का प्रतिनिधिमंडल शनिवार को वाराणसी एयरपोर्ट पर धरने पर बैठ गया। दरअसल, ये लोग सोनभद्र कांड में पीड़ितों के परिजन से मिलने जा रहे थे, तभी उन्हें वहां बीच में रोक लिया गया था। बता दें कि जिले में बीते बुधवार को जमीन विवाद में हुए गोलीकांड में मारे गए लोगों के परिजन से कांग्रेस महासचिव को मिलने से रोकने का मामला बेहद गर्मा उठा है।

    14:56 (IST)20 Jul 2019
    'क्या ये आंसू पोंछना अपराध है?'
    14:54 (IST)20 Jul 2019
    धारा 144 हटाने पर यह है डीएम की राय, बोले...

    सोनभद्र के डीएण अंकित अग्रवाल ने कहा है- गांव में हालत संवेदनशील थे, लिहाजा जिले में धारा 144 लगानी पड़ी। यह राजनीतिक दलों के नेतोओं के साथ सामाजिक संगठनों के कार्यकर्ताओं की एंट्री पर रोक लगाती है। मेरी सभी से गुजारिश है कि लोग शांति बनाए रखें।

    बकौल डीएम, "जैसे ही हालात सामान्य होंगे, धारा 144 हटा ली जाएगी। फिलहाल 29 लोगों की गिरफ्तारियां की जा चुकी हैं। गांव में शांति बनाए रखने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।"

    13:52 (IST)20 Jul 2019
    सुनिए, क्या बोलीं प्रियंका
    12:40 (IST)20 Jul 2019
    मायावती ने भी खोला मोर्चा

    बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार अपनी विफलता को छिपाने के लिए धारा 144 का सहारा लेकर किसी को सोनभद्र नहीं जाने दे रही है । मायावती ने ट्वीट किया, ''यूपी सरकार जान-माल की सुरक्षा व जनहित के मामले में अपनी विफलता को छिपाने के लिए धारा 144 का सहारा लेकर किसी को सोनभद्र जाने नहीं दे रही है ।'' उन्होंने कहा, ''फिर भी उचित समय पर वहाँ जाकर पीड़ितों की यथासंभव मदद कराने का बसपा विधानमण्डल दल को निर्देश दिया गया है । इस नरसंहार का मुख्य कारण सरकारी लापरवाही है ।'' मायावती ने कहा कि सोनभद्र में आदिवासी समाज का उत्पीड़न व शोषण, उनकी जमीन से बेदखली व अब नरसंहार उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार की कानून-व्यवस्था के मामले में विफल होने का पक्का प्रमाण है। उन्होंने कहा, ''यूपी ही नहीं, देश की जनता भी इन सबसे अति-चिन्तित है जबकि बसपा की सरकार में एसटी तबके के हितों का खास ख्याल रखा गया ।''

    12:20 (IST)20 Jul 2019
    मौके पर गोली चलाने का आरोपी गिरफ्तार

    17 जुलाई को हुए हत्याकांड के मुख्य आरोपी यज्ञदत्त के रिश्तेदार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक सलमान ताज पाटिल ने शनिवार को बताया कि यज्ञदत्त के निकट के रिश्तेदार कोमल को गिरफ्तार किया गया है। पाटिल ने बताया कि कोमल को वाराणसी में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। वह भदोही रेलवे स्टेशन का अधीक्षक है। उन्होंने कहा कि पीड़ितों ने बताया था कि हत्याकांड के समय कोमल घटनास्थल पर मौजूद था और मुख्य आरोपी की तरफ से उसने भी गोली चलाई थी।

    12:10 (IST)20 Jul 2019
    कांग्रेस बोली- यूपी में जंगलराज

    कांग्रेस ने यह आरोप लगाया कि राज्य में ‘‘जंगल राज’’ है और सरकार दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने में नाकाम रही है। बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को सोनभद्र में हुए सामूहिक हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मिलने जाने के दौरान शुक्रवार को मिर्जापुर के अदलहाट क्षेत्र में प्रशासन ने रोककर अपराध प्रक्रिया संहिता की धारा 151 के तहत हिरासत में ले लिया था। बाद में उन्हें चुनार गेस्ट हाउस लाया गया था।

    11:57 (IST)20 Jul 2019
    कांग्रेस नेताओं ने की गवर्नर से मुलाकात

    प्रमोद तिवारी की अगुआई में कांग्रेस नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने सोनभद्र में हुए हत्याकांड को लेकर गवर्नर राम नाइक से मुलाकात की। उधर, पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, "क्या पूरे उम्भा गाँव(सोनभद्र) को पुलिस छावनी में बदलकर सच दबा पाएगी आदित्यनाथ सरकार? भाजपा सरकार को प्रियंका गांधी से डर क्यों लगता है?''

    11:54 (IST)20 Jul 2019
    कांग्रेस बोली- गेस्ट हाउस का किया गया था बिजली-पानी बंद

    प्रियंका और अन्य समर्थकों के साथ चुनार गेस्ट हाउस में मौजूद कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने शनिवार को को बताया कि सरकार बिजली और पानी की आपूर्ति बंद करके उन्हें गेस्ट हाउस छोड़ने पर मजबूर कर रही है लेकिन उनके कदम पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने बताया कि पूरी रात बिजली नहीं आई। इस दौरान प्रियंका सुबह करीब 4:30 बजे तक कार्यकर्ताओं के साथ बैठी रहीं। सरकार ने गेस्ट हाउस में जलपान का कोई इंतजाम नहीं किया।

    11:53 (IST)20 Jul 2019
    ट्वीट करके जानकारी देती रहीं प्रियंका

    प्रियंका ने एक और ट्वीट में कहा कि उनके वकीलों के मुताबिक गिरफ्तारी हर तरह से गैरकानूनी है। वह किसी धारा का उल्लंघन करने नहीं बल्कि पीड़ितों से मिलने आई हैं। उन्होंने सरकार के दूतों से कहा है कि वह पीड़ितों से मिले बगैर वापस नहीं जाएंगी। प्रियंका ने एक वीडियो भी ट्वीट किया है जिसमें वरिष्ठ प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी रात करीब 1:15 बजे उनसे बैठक बेनतीजा खत्म होने के बाद वापस जाते दिख रहे हैं।

    11:52 (IST)20 Jul 2019
    प्रियंका ने पीड़ितों के परिजनों को बंधाया ढांढस

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी से मिलकर एक मृतक की रिश्तेदार फूट फूटकर रो पड़ी। प्रियंका उन्हें ढांढस बंधाती नजर आईं।  

    11:50 (IST)20 Jul 2019
    प्रियंका बोलीं, बिना वजह रोका गया

    प्रियंका ने देर रात किए गए सिलसिलेवार ट्वीट में बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने वाराणसी जोन के अपर पुलिस महानिदेशक बृजभूषण, वाराणसी के मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल और पुलिस उपमहानिरीक्षक को उनसे यह कहने के लिए भेजा कि वह पीड़ितों से मिले बगैर वापस चली जाएं। ना हिरासत में रखने का आधार बताया गया है और ना ही कोई कागज दिए गए।

    11:48 (IST)20 Jul 2019
    वाराणसी एयरपोर्ट पर रोके गए तृणमूल सांसद

    वाराणसी एयरपोर्ट पर रोके जाने के बाद तृणमूल सांसदों ने वहीं धरना देना शुरू कर दिया। उधर, सोनभद्र में हुई फायरिंग के मामले को आदिवासी मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने उम्मीद जताई कि राज्य सरकार पारदर्शी तरीके से जांच कराएगी और दोषियों को सजा मिलेगी।

    11:46 (IST)20 Jul 2019
    प्रियंका ने गेस्ट हाउस में बिताई रात

    प्रियंका गांधी वाड्रा ने वापस लौट जाने की अधिकारियों की सलाह नहीं मानते हुए चुनार गेस्ट हाउस में रात काटी। प्रियंका और अधिकारियों के बीच रात करीब 12:00 बजे से 1:15 बजे तक चली दूसरे दौर की बातचीत भी नाकाम रही और प्रियंका तथा उनके सैकड़ों समर्थक चुनार गेस्ट हाउस में ही डटे रहे।

    11:45 (IST)20 Jul 2019
    वाराणसी एयरपोर्ट पर रोके गए टीएमसी सांसद

    वाराणसी एयरपोर्ट पर रोके जाने के बाद तृणमूल सांसदों ने वहीं धरना देना शुरू कर दिया। उधर, सोनभद्र में हुई फायरिंग के मामले को आदिवासी मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने उम्मीद जताई कि राज्य सरकार पारदर्शी तरीके से जांच कराएगी और दोषियों को सजा मिलेगी।