ताज़ा खबर
 

मुलायम सिंह के बुरे दिन शुरू, IPS अधिकारी को धमकी देने के विवाद में पुलिस लेगी उनकी आवाज के नमूने

10 जुलाई, 2015 को अमिताभ ठाकुर ने हजरतगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि मुलायम सिंह यादव ने उन्हें फोन पर धमकी दी है।

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बातचीत करते हुए। (फोटो-एक्सप्रेस आर्काइव)

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार जाने के साथ ही समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की मुश्किलें शुरू हो गई हैं। खबर है कि आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को धमकी देने के मामले में पुलिस जल्द ही मुलायम सिंह की आवाज का नमूना लेगी। पुलिस शिकायत कर्ता अधिकारी की आवाज का भी नमूना लेगी। फिर उसका मिलान किया जाएगा। अमिताभ ठाकुर द्वारा लखनऊ के हजरतगंज थाने में दर्ज कराए गए मुकदमे की जांच कर रहे सीओ दिनेश कुमार सिंह ने लखनऊ की सीजेएम संध्या श्रीवास्तव की अदालत में सौंपे अपनी रिपोर्ट में यह बात कही है।

गौरतलब है कि दो साल पहले 10 जुलाई, 2015 को अमिताभ ठाकुर ने हजरतगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई थी कि मुलायम सिंह यादव ने उन्हें फोन पर धमकी दी है। उस वक्त आनन-फानन में हजरतगंज पुलिस ने मामले की विवेचना कर अक्टूबर 2015 में अपनी अंतिम रिपोर्ट कोर्ट में सौंप दी थी।

इसके बाद कोर्ट ने अगस्त 2016 में जांचकर्ता पुलिस अधिकारी को दोनों की आवाज का नमूना लेकर विधि विज्ञान प्रयोगशाला से जांच कराने का आदेश दिया था लेकिन तब से उस पर कोई कार्रवाई नहीं हो सकी थी। अब जब राज्य में सत्ता परिवर्तन हो चुका है तो इस मामले में विवेचना अधिकारी ने 30 मार्च को कोर्ट में अपनी रिपोर्ट सौंपते हुए कहा कि चुनावी ड्यूटी होने और अन्य कार्यों की वजह से वो इस मामले में आगे कार्रवाई नहीं कर सके थे।

सीओ की रिपोर्ट पर संज्ञान लेते हुए कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई के लिए तारीख तय कर दी है। अब अधिकारी दोनों ही लोगों की बातचीत का अध्ययन करेंगे और दोनों की ही आवाज का नमूना लेकर उसे जांच के लिए भेजेंगे।

वीडियो: मुलायम सिंह यादव की पत्नी साधना गुप्ता ने तोड़ी चुप्पी; कहा- "मेरा बहुत अपमान हुआ, नेता जी ने राजनीति में आने नहीं दिया"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App