police arrested a fraud who made fake id of acharya bal krishna - गिरफ्तार हुआ खुद को पतंजलि का बालकृष्ण बताने वाला, लड़कियों को गंदे मैसेज भेज देता था नौकरी का झांसा - Jansatta
ताज़ा खबर
 

गिरफ्तार हुआ खुद को पतंजलि का बालकृष्ण बताने वाला, लड़कियों को गंदे मैसेज भेज देता था नौकरी का झांसा

आरोपी मोहम्‍मद जीशान ने बताया कि उसने यह फेक आईडी लड़कियों को फंसाने के लिए बनाई थी। वह खुद को आचार्य बालकृष्ण बताकर लड़कियों को पतंजलि में नौकरी दिलाने और अधिकारियों के साथ संबंध बनाने के बदले में मोटी रकम दिलाने का लालच देता था।

आचार्य बालकृष्ण (File Photo)

सोशल मीडिया और फेसबुक पर आचार्य बाल कृष्ण की फर्जी आईडी बनाकर लड़कियों के साथ ठगी करने वाले शख्स को नोएडा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। ये ठग फेसबुक पर आचार्य बाल कृष्ण की फर्जी आईडी चला रहा था। इस ठग ने उनके अनुयायियों के साथ गाली—गलौज भी की थी। इसके अलावा वह लड़कियों को नौकरी का झांसा देकर उनके साथ संबंध बनाता था और उनसे रुपये भी ऐंठ लेता था।

नोएडा के सेक्टर—20 पुलिस स्टेशन के एसएचओ मनीष सक्सेना ने मीडिया को बताया, 4 जुलाई को वैदिक ब्राडकास्टिंग लिमिटेड के सीईओ प्रमोद जोशी ने अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कराया था। इस पर पुलिस ने शनिवार (11 अगस्त) को मुखबिर की सूचना पर सेक्टर-10 से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार आरोपी का नाम मोहम्मद जीशान है। वह यूपी के सहारनपुर जिले के चिकलाना का रहने वाला है। पुलिस ने आरोपी को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है।

पुलिस के मुताबिक, आरोपी ने आचार्य बालकृष्ण के नाम और फोटो के साथ फर्जी फेसबुक अकाउंट बना रखा था। इसी अकाउंट से बाब रामदेव और आचार्य बाल कृष्ण के अनुयायी जुड़ने लगे। आरोपी अनुयायियों से चैट करते हुए कई बार अभद्र भाषा का इस्तेमाल करता था। विरोध करने पर अनुयायियों के साथ गाली-गलौज करता था। इससे लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंच रही थी।

पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने यह फेसबुक आईडी लड़कियों को फंसाने के लिए बनाई थी। वह खुद को आचार्य बालकृष्ण बताकर लड़कियों को पतंजलि में नौकरी दिलाने और पतंजलि के अधिकारियों के साथ संबंध बनाने के बदले में मोटी रकम दिलाने का लालच देता था। आरोपी लड़कियों से फीस के तौर अपने बैंक खाते में रकम जमा करा लेता था। पुलिस के अनुसार आरोपी ने अब तक 12 से अधिक लड़कियों को फंसाकर उनके साथ ठगी करने की वारदात को कुबूल किया है। ठगी करने के बाद आरोपी पीड़ित लड़कियों के अकाउंट को अपने खाते से ब्लॉक कर देता था। आरोपी पुलिस से बचने के लिए बार-बार अपना ठिकाना भी बदल रहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App