ताज़ा खबर
 

लिव इन पार्टनर के साथ मिलकर की बड़ी बहन की हत्या, खाली पड़े प्लॉट में दफनाई लाश

जमीन विवाद में 38 वर्षीय महिला की हत्या कर शव जलाने और खाली प्लॉट में गाड़ने के चार आरोपियों को गाजियाबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया है। हत्या की यह घटना पिछले साल अगस्त में हुई है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

जमीन विवाद में 38 वर्षीय महिला की हत्या कर शव जलाने और खाली प्लॉट में गाड़ने के चार आरोपियों को गाजियाबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया है। हत्या की यह घटना पिछले साल अगस्त में हुई है। हत्या में बहन और उसके लिव इन पार्टनर की भूमिका सामने आई है। कारण संपत्ति की लालच बताया जाता है।आरोपियों में पूजा कॉलोनी निवासी  जान मोहम्मद, इरफान और मृतक की 30 साल की छोटी बहन रेखा की गिरफ्तारी हुई।
पुलिस ने बताया कि रेखा ने बहन को मारने के लिए हत्या की योजना बनाई।इसके लिए उसने लिव इन पार्टनर जान मोहम्मद की मदद ली। लोनी के जौहरी एन्क्लेव में रहने वाली बेबी 29 अगस्त 2017 को जान मोहम्मद के पूजा कॉलोनी स्थित घर गई थी मगर नहीं लौटी। महिला के परिवार का मानना था कि वह किसी के साथ चली गई। मगर बाद में जान मोहम्मद के खाली पड़े प्लॉट से उसका शव निकला तो लोग चौंक गए। आठ महीने पहले महिला की हत्या कर उसका शव जला दिया गया था। महिला के गायब होने के समय पति ने अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

एसएसपी ने बीते 29 अप्रैल को समीक्षा बैठक के दौरान केस के खुलासे का निर्देश दिया। वहीं जांच अधिकारी के खिलाफ केस में ढिलाई बरतने के आरोप में कार्रवाई की भी बात कही। जिसके बाद पुलिस हरकत में आई और चार आरोपियों की गिरफ्तारी हुई। दो अन्य आरोपी मोहम्मद का भाई और डेनिश फरार बताए जाते हैं।

दोनों बहनें बागपत के खट्टा की रहने वाली हैं. शादी के बाद बेबी लोनी में रह रही थी, वहीं शादी के बाद पति ने छोड़ दिया तो पांच साल से रेखा भी लोनी में रह रही थी। फिर रेखा पानी सप्लायर जान मोहम्मद के साथ नौकरी करने लगी। पुलिस ने कहा कि बाद में जान मोहम्मद और रेखा रिश्ते में आकर लिव इन में रहने लगे।

पुलिस के मुताबिक रेखा खट्टा में अपनी पैतृक संपत्ति बेचना चाहती थी, मगर बेबी राजी नहीं थी। रेखा ने मोहम्मद से बहन को मारने के लिए कहा। रेखा मानती थी कि उसके पति ने बेबी के कारण उसे छोड़ा। हत्या से 20 दिन पहले बेबी ने अपने बेटे खातिर मोहम्मद से ताबीज मांगी थी। रेखा ने बहन की हत्या के लिए इसे एक अवसर के रूप में चुना।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App