ताज़ा खबर
 

बेरोजगारी से था परेशान, नोएडा में बिहार के युवक ने कर लिया सुसाइड

मौके पर पहुंची पुलिस की एक टीम दरवाजा तोड़कर अशोक को जिला अस्पताल लेकर गई, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। अशोक यादव अपने गांव के तीन लोगों के साथ रह रहा था।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

बिहार के 24 साल के युवक ने नौकरी न मिल पाने के कारण शुक्रवार (4 जनवरी) शाम छत के पंखे से लटककर अपनी जान दे दी। यह घटना नोएडा के सेक्टर-45 की सदरपुर कॉलोनी की है। यहां सदरपुर कॉलोनी में उसके दोस्त राहुल, देवानंद और अंकित रहते हैं। तीनों सेक्टर-83 की एक कंपनी में काम करते हैं। पुलिस को मौके से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, बिहार के गोपालगंज का अशोक यादव बेरोजगार सॉफ्टवेयर इंजीनियर था। सेक्टर 39 पुलिस स्टेशन के स्टेशन हाउस अधिकारी उदय प्रताप ने कहा, ”हम उनके परिवार और दोस्तों से जो कुछ भी हासिल कर पाए हैं, उससे लगता है कि वह 1 जनवरी को नौकरी की तलाश में नोएडा आया था। उसे देखते हुए चार दिन हो चुके थे, और उसी के कारण परेशान था। पहली नजर में सुसाइड का यही कारण लगता है।”

पुलिस ने कहा कि अशोक यादव बिहार के अपने गांव के तीन लोगों के साथ रह रहा था। वे सभी वर्तमान में नोएडा में एक एमएनसी में काम कर रहे हैं। उन्होंने अपनी कंपनी के साथ ही इंटरव्यू कराया था, और नौकरी की तलाश में दिल्ली आया था। एक पुलिस सूत्र ने बताया कि वह बिहार के एक विधायक के संपर्क में था। उदय प्रताप ने बताया कि, शुक्रवार सुबह यादव के कमरे के साथी लगभग 9 बजे अपने ऑफिस के लिए निकल गए। उसने उन्हें बताया कि वह वापस आ जाएगा क्योंकि उसके पास जाने के लिए कोई और जगह नहीं है, और उन्हें चाबियां छोड़ने के लिए कहा। जब वे शाम 6 बजे के आसपास लौटे, तो उन्हें दरवाजा अंदर से बंद मिला। जब कई बार खटखटाने के बाद यादव ने दरवाजा नहीं खोला, तो उन्होंने अंदर झांका तो देखा कि अशोक पंखे से लटका है। जब उन्होंने पुलिस हेल्पलाइन को फोन किया।

मौके पर पहुंची पुलिस की एक टीम दरवाजा तोड़कर अशोक को जिला अस्पताल लेकर गई, जहां यादव को मृत घोषित कर दिया गया। इसके बाद बॉडी को पोस्टमर्टम के लिए भेज दिया गया। हम शव परीक्षण रिपोर्ट की प्रतीक्षा कर रहे हैं। इस बीच हमने उनके परिवार को सूचित कर दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App