ताज़ा खबर
 

नोएडा: चार महीने से बेरोजगार फैशन डिजाइनर समेत तीन ने की आत्महत्या

डीपीएस नोएडा में पढ़ी विनीता की फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने के बाद मुबंई में नौकरी लग गई थी। 4 महीने पहले किसी वजह से उसकी नौकरी छूट गई थी।

Author नोएडा | September 13, 2016 04:43 am
प्रतीकात्मक चित्र

तीन अलग-अलग घटनाओं में फैशन डिजाइनर समेत दो महिलाओं और एक युवक ने आत्महत्या कर ली। फैशन डिजाइनर के बारे में बताया जा रहा है कि वह नौकरी न मिलने की वहज से परेशान थी। उसने बाथरूम के कुंडे पर फंदा लगाकर आत्महत्या की। दूसरी घटना में महिला के मानसिक तनाव में होने की वजह बताई जा रही है। जबकि तीसरे मामले में एक युवक ने ठेकेदारी में घाटा होने की वजह से आत्महत्या जैसा कदम उठाया।

तीनों मामलों में पुलिस ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है। सेक्टर- 27 के डी ब्लाक में रवि प्रसाद अपनी पत्नी और बेटी विनीता (26) के साथ रहते हैं। विनीता फैशन डिजाइनर है। बताया जा रहा है कि रविवार रात को विनीता खाना खाकर अपने कमरे में सोने चली गई थी। कुछ देर बाद वह बाथरूम गई थी। करीब एक घंटे बाद भी जब विनीता बाथरूम से नहीं निकली, तो उन्होंने दरवाजा खटखटाया। दरवाजा नहीं खुलने पर उन्होंने आवाज दी। आवाज नहीं आने पर पत्नी ने रवि प्रसाद को बुला कर दरवाजा तोड़ा तो देखा कि अंदर विनीता का शव कुंडे पर लटका था। थाना सेक्टर-20 पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है। बताया गया है कि डीपीएस नोएडा में पढ़ी विनीता की फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने के बाद मुबंई में नौकरी लग गई थी। 4 महीने पहले किसी वजह से उसकी नौकरी छूट गई थी। जिससे वह परेशान थी। वह सेक्टर- 27 में अपने माता- पिता के पास रहकर नौकरी की तलाश कर रही थी। विनीता के पिता रवि प्रसाद शिक्षक हैं। हालांकि मौके से कोई आत्महत्या के बाबत पत्र नहीं मिला है।

तनाव की वजह से फंदे पर झूली

दूसरी घटना में सेक्टर- 71 की है जहां रीना (26) ने सोमवार सुबह करीब 9 बजे बाथरूम में आत्महत्या कर ली। उस समय रीना के पति सतेंद्र बच्चों को छोड़ने स्कूल गए हुए थे। वापस लौटने पर जब बाथरूम का दरवाजा नहीं खुला, तो सतेंद्र ने पुलिस को सूचना देकर दरवाजा तोड़ा। अंदर रीना फांसी के फंदे पर लटकी थी। मिली जानकारी के मुताबिक सतेंद्र प्राधिकरण में नौकरी करते हैं उन्होंने बताया कि रीना पिछले कुछ दिनों से तनाव में चल रही थी। थाना फेज-3 पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है।
कर्जदारों के तगादों से परेशान युवक ने की आत्महत्या

तीसरी घटना में अभिषेक (28) नाम के युवक ने ठेकेदारी में घाटे की वजह से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मूल रूप से फरीदाबादा का रहने वाला अभिषेक गढ़ी चौखंडी गांव में रहता था। वह फरीदाबाद की एक चमड़े की कंपनी में ठेकेदारी करता था। बताया गया है कि पिछले कई महीनों से घाटे के चलते उस पर काफी कर्ज हो गया था। कर्जदारों के तगादों से परेशान होकर उसने आत्महत्या कर ली। फरवरी, 2016 में उसकी शादी हुई थी।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App