ताज़ा खबर
 

केजरीवाल के खिलाफ शिकायत की जांच नहीं करने पर नोएडा पुलिस को फटकार

नोएडा पुलिस के अधिकारी ने अदालत के सामने दलील दी कि शिकायतकर्ता विप्लव अवस्थी की ओर से बताई गई कथित घटना की पुष्टि नहीं हो सकी और शिकायत झूठी थी।

Author नई दिल्ली | April 12, 2017 3:09 AM
NDTV, NDTV raid, CBI raid, NDTV Co-Founder, Prannoy Roy, Arvind kejriwal, Arvind kejriwal tweet, Kejriwal supports Prannoy Roy, Delhi residence, case registered, wife Radhika Roy, loss to Bank, Delhi news, Hindi newsआम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (PTI Photo)

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनके रिश्तेदार के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के चलते कथित तौर पर हमले का सामना करने वाले एक व्यक्ति की ओर से दर्ज कराई गई प्राथमिकी पर उपयुक्त कार्रवाई नहीं करने को लेकर दिल्ली की एक अदालत ने पुलिस की खिंचाई की है। नोएडा पुलिस के अधिकारी ने अदालत के सामने दलील दी कि शिकायतकर्ता विप्लव अवस्थी की ओर से बताई गई कथित घटना की पुष्टि नहीं हो सकी औमर शिकायत झूठी थी।

इस बीच, केजरीवाल और अन्य के खिलाफ अनियमितता के आरोप की जांच कर रही भ्रष्टाचार रोधी शाखा ने अवस्थी सहित तीन शिकायतकर्ताआें को खतरे के आकलन पर एक विस्तृत स्थिति रिपोर्ट भी दाखिल की है। बहरहाल, अदालत ने स्थिति रिपोर्ट पाने के बाद मामले की अगली सुनवाई 26 अप्रैल तय कर दी। नोएडा पुलिस की रिपोर्ट से नाखुश मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट अभिलाष मल्होत्रा ने कहा कि आरोपों की जांच किए बगैर एजंसी इस निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सकती कि शिकायत झूठी थी। शिकायतकर्ताओं को खतरे का आकलन करने पर अदालत के पहले के आदेश के अनुपालन में पुलिस ने स्थिति रिपोर्ट दाखिल की थी। मजिस्ट्रेट ने कहा कि अदालत छानबीन कैसे कर सकती है? आपने कोई दस्तावेज नहीं जमा किया है। आपने हर चीज मौखिक की है। क्या अदालत आपकी मौखिक दलील पर छानबीन करेगी? कोई फाइल या दस्तावेज नहीं है। आप केस डायरी नहीं लाए। मजिस्ट्रेट ने नोएडा पुलिस को 26 अप्रैल को एक विस्तृत रिपोर्ट दाखिल करने को कहा।

बता दें कि दिल्ली और नोएडा के अलग-अलग पुलिस थानों में तीन प्राथमिकियां दर्ज करा कर आरोप लगाया गया था कि केजरीवाल, उनके करीबी रिश्तेदार सुरेंदर बंसल (एक कंस्ट्रक्शन कंपनी के मालिक) और एक लोक सेवक के खिलाफ अदालत में एक आपराधिक शिकायत करने के बाद शिकायतकर्ताओं को धमकी मिली है और उन पर हमला हुआ है। दिल्ली में सड़कों और सीवर लाइनों के ठेके देने में कथित अनियमितता बरते जाने को लेकर यह शिकायत दर्ज कराई गई थी।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली: स्वच्छ यमुना मुहिम के लिए नोएडा प्राधिकरण की पहल, सिंचाई नाले की होगी सफाई
2 नोएडा: ओखला में महिला की कुल्हाड़ी से की हत्या, पुलिस ने पकड़ा आरोपी
3 नोएडा: जिनकी नहीं थी सुध, उनमें कर रहे सुधार, 41 पार्किंग स्थलों के अलावा अन्य पार्किंग स्थल होंगे अवैध
ये पढ़ा क्या?
X