ताज़ा खबर
 

नोएडा: फांसी लगाकर महिला ने की आत्महत्या

रविवार रात करीब पौने एक बजे जयंती की बड़ी बेटी जागी, तो उसने मां को पंखे के फंदे से लटके देखा। चीखने और रोने की आवाज सुनकर पति समेत आस-पड़ोसी जाग गए।

Author नोएडा | May 23, 2017 3:37 AM
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

सेक्टर- 37 में रहने वाली एक महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। फंदे से उतारकर महिला के शव को पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है। जबकि इसी सेक्टर से बेहोशी की हालत में मिले व्यक्ति की इलाज के दौरान मौत हो गई। इलाज के दौरान मृत व्यक्ति की शिनाख्त नहीं हो सकी है।  मिली जानकारी के मुताबिक सेक्टर- 37 की एक कोठी के सर्वेंट क्वाटर में जयंती (29) रहती थी। मूल रूप से बिहार के भोजपुर जिले की रहने वाली जयंती अपने पति और दो बेटियों के साथ रहती थी। वह खुद नौकरानी के रूप में काम करती थी। रविवार रात करीब पौने एक बजे जयंती की बड़ी बेटी जागी, तो उसने मां को पंखे के फंदे से लटके देखा। चीखने और रोने की आवाज सुनकर पति समेत आस-पड़ोसी जाग गए। सूचना मिलने पर पहुंची थाना सेक्टर- 39 पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर कमरे की तलाशी ली। मौके से आत्महत्या से पहले लिखा कोई नोट नहीं मिला है। पुलिस के मुताबिक मृतका के परिजनों को सूचना दे दी गई। उनकी शिकायत पर ही मामला दर्ज किया जाएगा। बताया गया है कि रविवार रात को पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ था।

बेहोशी की हालत में मिले व्यक्ति की मौत

सेक्टर- 37 में रविवार रात को बेहोशी की हालत में एक व्यक्ति के पड़े होने की सूचना लोगों ने पुलिस को दी। पुलिस व्यक्ति को सेक्टर- 30 के जिला अस्पताल लेकर पहुंची। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है।
थाना सेक्टर- 39 के एसएचओ राकेश भदौरिया ने बताया कि मृतक के जेब से मिले आधार कार्ड के बारे में भोपाल पुलिस से संपर्क किया गया है। भोपाल पुलिस ने जांच करने के बाद नाम और पते, दोनों को गलत बताया है। जिले के सभी थानों के अलावा भोपाल पुलिस को भी मृतक की फोटो भेजी गई है। अलबत्ता मौत के कारण का अभी तक पता नहीं चल सका है।

अरुण जेटली ने अरविंद केजरीवाल पर ठोका 10 करोड़ रुपये की मानहानि का दूसरा मुकदमा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App