ताज़ा खबर
 

कार का शीशा साफ करने के बहाने मोबाइल और पर्स उड़ा रहे छोटे बच्चे

ट्रैफिक लाइटों पर इन दिनों छोटे बच्चे कार का श्ीाशा साफ करने के बहाने मोबाइल और पर्स उड़ा रहे हैं।

चित्र का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

नोएडा शहर की ट्रैफिक लाइटों पर इन दिनों छोटे बच्चे कार का श्ीाशा साफ करने के बहाने मोबाइल और पर्स उड़ा रहे हैं। ऐसे ज्यादातर मामलों की शिकायत करने से खुद पीड़ित कतराते हैं, या फिर पुलिस ऐसी शिकायत ही दर्ज नहीं करती। शनिवार को सर्फाबाद गांव के पास ट्रैफिक लाइट पर तीन बच्चों ने शीशा साफ करने के बहाने कार में रखे दो मोबाइल उड़ा लिए। पीड़ित ने मामले की शिकायत थाना सेक्टर-49 पुलिस से की है।

ग्रेटर नोएडा के अशफाक शनिवार को कार से सेक्टर-63 की ओर जा रहे थे। सर्फाबाद ट्रैफिक लाइट के लाल होने पर अशफाक ने कार रोक दी। तभी करीब 10-12 साल की उम्र वाले तीन बच्चे उनकी कार के पास पहुंचे। एक ने शीशा साफ करना शुरू किया, तो उन्होंने मना कर दिया। इस बीच दूसरे दरवाजे के पास दो अन्य बच्चे शीशा साफ करने लगे। दूसरी तरफ का शीशा खोलकर जैसे ही अशफाक ने उन्हें डांटा, वैसे ही शीशा साफ करने वाला एक बच्चा कार के डैश बोर्ड पर रखे दो मोबाइल उठा कर भाग गया। अशफाक जब तक शोर मचाते हुए कार से नीचे उतरे, तब तक सभी बच्चे भाग चुके थे। इसी दौरान ट्रैफिक लाइट हरी हो जाने से पीछे खड़े वाहन चालक शोर मचाने लगे, जिसके चलते अशफाक को मजबूरी में कार को ट्रैफिक लाइट से आगे ले जाकर रोकना पड़ा। इस दौरान न केवल छोटे बच्चे बल्कि चौराहों पर रहने वाले बुजुर्ग महिला-पुरुष भी फरार हो चुके थे।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 2 रुपये के सिक्के से रोकते थे ट्रेन, फिर करते थे लूटपाट, बनाया 6 ट्रेनों को निशाना
2 नोएडा प्राधिकरण का कदम, दमकल वाहनों से पानी की बौछार करा धूल पर काबू पाने की कोशिश
3 चैन की सांस के लिए अभी करना होगा दो-तीन दिन और इंतजार
ये पढ़ा क्या?
X