ताज़ा खबर
 

नाइजीरियाई छात्रों पर हो रहे हमलों के चलते भारतीय राजदूत को किया गया तलब- रिपोर्ट्स

नाइजीरियाई मीडिया के अनुसार नाइजीरियाई सरकार ने इन हमलों में शामिल लोगों को गिरफ्तार करने और उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

27 मार्च को लोगों ने मनीष नाम के एक भारतीय छात्र की मौत के बाद एक मार्च निकाला था, जो हिंसा में तब्दील हो गया था।

ग्रेटर नॉएडा में नाइजीरियाई मूल के लोगों पर हुए हमलों के बाद नाइजीरियाई सरकार भारतीय राजदूत को तलब किया है। नाइजीरियाई मीडिया के अनुसार नाइजीरियाई सरकार ने इन हमलों में शामिल लोगों को गिरफ्तार करने और उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। सोमवार बाद से शुरु हुए इन हमलों में अब तक पांच नाइजीरियाई छात्र घायल हो चुके हैं। ये सारा मामला ग्रेटर नोएडा में 12वीं कक्षा के छात्र मनीष खरी की बीते शनिवार (25 मार्च) को रहस्यमय हालात में हुई मौत के बाद शुरू हुआ। स्थानीय लोगों ने उसकी हत्या का आरोप कुछ नाइजीरियाई छात्रों पर लगाए था। इसके बाद ग्रेटर नोएडा में सोमवार (27 मार्च) को इलाके के लोगों ने एक मार्च निकाला, जो बाद में हिंसा में बदल गया। इस मार्च के बाद से ही ग्रेटर नोए़डा में नाइजीरियाई छात्रों के खिलाफ हिंसा की खबरें आने लगी। बुधवार को एक ताजा मामले में एक नाइजीरियाई लड़की कोअॉटो से उतार पर बुरी तरह पीटा गया। बाद में उसे कैलाश हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज जारी है। डॉक्टरों ने कहा कि उसकी हालत स्थित है। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है और आरोपियों की तलाश की जा रही है। यह घटना ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क इलाके में हुई।

इससे पहले  एक नाइजीरियाई छात्र ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से ट्वीट करके इस मामले में दखल की मांग की थी। सादिक ने ट्वीट के जरिए कहा- “आपको(स्वराज) इस मामले में जल्द ही कोई एक्शन लेना होगा। नोएडा में हमारे लिए जीना मुश्किल होता जा रहा है और हमारी जान को खतरा है”  जिसके बाद सुषमा स्वराज ने इस मामले की जांच के अलावा, ट्वीट के जरिए यह भी कहा कि उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ से भी बातचीत की है और उन्होंने मामले की निष्पक्ष जांच का भरोसा दिलाया है। साथ ही सुषमा स्वराज ने अफ्रीकी छात्रों पर हुए हमले की रिपोर्ट भी मांगी है।

ग्रेटर नोएडा में हमले की दूसरी वारदात; नाइजीरियाई लड़की को ऑटो से उतारकर बुरी तरह पीटा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X