ताज़ा खबर
 

फैजाबाद में दो दर्जन मुस्लिमों ने अपनाया हिंदू धर्म, कहा- हमारे पूर्वज हिंदू थे इसलिए हम भी बन गए

मामले में जानकारी देते हुए आरएसएस के कैलाश चंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि जिन लोगों ने हिंदू धर्म अपनाया है उन्हें किसी भी तरह का लालच नहीं दिया गया है।

हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार धर्म परिवर्तन करते मुस्लिम समुदाय के लोग (फोटो सोर्स एएनआई)

उत्तर प्रदेश के फैजाबाद में करीब दो दर्जन मुस्लिम लोगों के धर्म परिवर्तन करने की खबर है। न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार करीब 24 लोगों ने मुस्लिम धर्म को छोड़कर हिंदू रीति रिवाजों के मुताबिक हिंदू धर्म को अपना लिया है। हिंदू धर्म को अपनाने वाले सभी लोग अंबेडकरनगर जिले के रहने वाले हैं। धर्म परिवर्तन करने वालों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल है। इस दौरान हिंदू धर्म अपनाने वाले एक जान मोहम्मद ने कहा कि करीब 20-25 साल पहले उनके पूर्वज हिंदू थे। हालांकि कुछ वजहों से उन्होंने हिंदू धर्म छोड़कर मुस्लिम धर्म अपना लिया था। वहीं धर्म से जुड़े सभी आवश्यक अनुष्ठानों को पूरा करने के बाद इन लोगों ने हिंदू धर्म का पालन करने की शुरुआत कर दी है। पूरा कार्यक्रम एक आर्य समाज मंदिर में बहुत ही गुप्त तरीके से किया गया था। इस दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) कैलाश चंद्र श्रीवास्तव ने धर्म परिवर्तन से जुड़ी प्रक्रियाओं को पूरा किया। वहीं मामले में जानकारी देते हुए श्रीवास्तव ने कहा कि जिन लोगों ने हिंदू धर्म अपनाया है उन्हें किसी भी तरह का लालच नहीं दिया गया है। वहीं मामले में उत्तर प्रदेश प्रशासन ने प्रतिक्रिया देने से साफ इंकार कर दिया है।

हिंदू धर्म अपनाने वाले लाल मोहम्मद ने बताया कि उनके पिताजी हिंदू थे जिनका नाम जयदुर और चाचा का नाम छब्बू लाल था। 20-25 साल पहले उन्होंने हिंदू धर्म छोड़कर मुस्लिम थर्म अपना लिया था। जान मोहम्मद ने बताया कि अब पिता इस दुनिया में नहीं है तो उन्हें अब इस बात का अहसास हुआ कि उनके पिताजी का जो पहले वाला धर्म था, वही सही धर्म था। अब हम भी हिंदू धर्म में रहना चाहते हैं। इस धर्म आकर हमें संतुष्टि मिली है। लाल मोहम्मद ने आगे बताया कि हिंदू धर्म अपनाने पर हमें किसी तरह का लालच नहीं दिया गया है। हम अपनी खुशी से हिंदू धर्म में शामिल हुए हैं।

देखें वीडियो, 2007 गोरखपुर दंगे: योगी आदित्य नाथ पर नहीं चलेगा मुकदमा, उत्तर प्रदेश सरकार ने नहीं दी इजाजत

Next Stories
1 शहीद के परिवार से मिलने नहीं पहुंचे योगी आदित्य नाथ, अनशन पर बैठी पत्नी और भाई की हालत बिगड़ी
2 साबरमती एक्सप्रेस ब्लास्ट: 16 साल जेल में काटने के बाद निर्दोष साबित होकर बरी हुआ गुलजार अहमद
3 अमेठी: राजीव गांधी चैरिटेबल ट्रस्ट पर जमीन कब्जाने के आरोप, लोगों ने प्रदर्शन कर राहुल गांधी के खिलाफ की नारेबाजी
ये पढ़ा क्या?
X