ताज़ा खबर
 

पिता मुलायम के बाद चाचा शिवपाल का अखिलेश पर निशाना, कहा- जो बच्चे बाप की बात नहीं मानते वो तरक्की नहीं करते

एक दिन पहले ही मुलायम सिंह यादव ने कहा था, “जो बाप का ना हो सका, वो किसी का नहीं हो सकता।”

Samajwadi Party, Mulayam Singh Yadav, Shivpal Yadav, National Executive Committee, Expelled from national executive committee, Samajwadi Party removes, Samajwadi Party Expelled Mulayam Singh Yadav, Samajwadi Party Expelled Shivpal Yadav, Samajwadi Party national executive committee, State news, Jansattaकार्यकारिणी में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और शिवपाल यादल का नाम नहीं है।(Photo Source: PTI/File)

उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव हारने के बाद एक बार फिर समाजवादी पार्टी में कलह सतह पर सामने आ गई है। पार्टी संरक्षक मुलायम सिंह यादव के बाद उनके छोटे भाई और पूर्व मंत्री और पूर्व पार्टी प्रदेश अध्यक्ष शिनपाल सिंह यादव ने भी अखिलेश यादव पर निशाना साधा है। मैनपुरी के करहल में शिवपाल यादव ने अखिलेश पर निशाना साधते हुए कहा है, ” जो बच्चे बाप की बात नहीं मानते वो तरक्की नहीं करते।” इसके साथ ही शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि जो बिना मेहनत के पाते हैं वो बड़ी जिम्मेदारी नहीं निभा पाते हैं। उन्होंने कहा, “मैं हमेशा नेता जी के साथ हूं और रहूंगा।” नई पार्टी बनाने के सवाल पर शिवपाल ने कहा कि इसका फैसला नेता जी करेंगे।

एक दिन पहले ही मुलायम सिंह यादव ने कहा था, “जो बाप का ना हो सका, वो किसी का नहीं हो सकता।” मैनपुरी में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुलायम सिंह यादव ने कहा कि उनका इतना अपमान कभी नहीं हुआ था। उन्होंने कहा कि मैंने अखिलेश को मुख्यमंत्री बनाया लेकिन उसने मेरी भी नहीं सुनी। मुलायम ने भारतीय राजनीति का उदाहरण देते हुए कहा कि किसी भी बाप ने अपने रहते हुए अपने बेटे को मुख्यमंत्री नहीं बनाया लेकिन मैंने ऐसा किया। उन्होंने छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव की भी बेइज्जती की बात करते हुए कहा, बताओ, अपने चाचा को ही मंत्री पद से हटा दिया।

यूपी विधानसभा चुनाव के अंतिम चरण से पहले मुलायम सिंह यादव की पत्नी साधना गुप्ता ने भी समाचार एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में आरोप लगया था कि उनके पति मुलायम सिंह यादव का अपमान किया गया है। साधना गुप्ता ने यह भी कहा था कि उन्होंने कभी भी अखिलेश और प्रतीक को अलग नहीं समझा। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि अखिलेश किसी और के इशारे पर परिवार के खिलाफ काम कर रहे हैं।

इस बीच समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता और प्रवक्ता गौरव भाटिया भारतीय जनता पार्टी में शामिल होंगे। वह रविवार (2 अप्रैल) को बीजेपी में शामिल होंगे। गौरव भाटिया ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से कुछ दिन पहले ही समाजवादी पार्टी का साथ छोड़ दिया था। हालांकि, तब गौरव भाटिया ने कहा था कि किसी दूसरी पार्टी में शामिल नहीं होंगे। गौरव भाटिया समाजवादी पार्टी के लीगल विंग के प्रसिडेंट थे। गौरव भाटिया ने पांच फरवरी 2017 को पार्टी पद से इस्तीफा देने की बात कही थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उत्तर प्रदेश: डॉक्टर के फार्महाउस से 38 गायों के शव मिलने से फैली सनसनी, भुखमरी की हालत में बचाए गए दर्जनों गाय-बछड़े
2 उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में महिलाओं ने जला डाली शराब की दुकान
3 एमए में अव्वल रहा दृष्टिहीन छात्र, पीएचडी में दाखिला नहीं
ये पढ़ा क्या...
X