ताज़ा खबर
 

सांसद बदरुद्दीन की ब्लैकमेलिंग की शिकायत, पूर्व विधायक अली गिरफ्तार

एआइयूडीएफ सांसद मौलाना बदरुद्दीन अजमल से कथित ब्लैकमेलिंग के मामले में देवबंद के पूर्व पालिकाध्यक्ष व पूर्व विधायक माविया अली को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Author सहारनपुर, 22 अगस्त। | August 23, 2018 11:37 AM
सांसद ने आरोप लगाया कि विधायक ने गुपचुप ढंग से बनाए गए आडियो के लिए एक करोड़ रुपए की मांग की थी।

सुरेंद्र सिंघल

एआइयूडीएफ सांसद मौलाना बदरुद्दीन अजमल से कथित ब्लैकमेलिंग के मामले में देवबंद के पूर्व पालिकाध्यक्ष व पूर्व विधायक माविया अली को गिरफ्तार कर लिया गया है। सांसद ने आरोप लगाया कि विधायक ने गुपचुप ढंग से बनाए गए आडियो के लिए एक करोड़ रुपए की मांग की थी। इस सिलसिले में दिल्ली में विधायक माविया अली के खिलाफ 19 अगस्त को मामला दर्ज किया गया। आरोपी माविया को तिहाड़ जेल भेज दिया गया है। सांसद के दावे के मुताबिक पुलिस ने माविया के पास से मोबाइल फोन बुधवार को जब्त कर लिया है।

सांसद बदरुद्दीन अजमल ने बुधवार को पत्रकारों को बताया कि करीब चार माह पूर्व उनकी देवबंद की साढ़े नौ बीघा जमीन छह करोड़ में खरीदने का इकरारनामा देवबंद पालिका के पूर्व अध्यक्ष व पूर्व विधायक माविया अली के साथ हुआ था। तीन माह में भुगतान करने का वादा माविया अली ने उनसे किया था। लेकिन चार माह बाद भी उन्हें भुगतान नहीं मिला। इसी मामले में माविया अली उनसे 24 जुलाई को साउथ एवेन्यू नई दिल्ली के उनके सरकार आवास 1-3 पर मिलने आया था। उन्हें बाद में पता चला कि पूर्व विधायक ने खुफिया तरीके बातचीत का आडियो बना लिया। सांसद ने आरोप लगाया कि विधायक ने 14 अगस्त को बातचीत को ब्योरा न्यूज चैनल को जारी करने की धमकी दी जिससे उनकी राजनीतिक छवि खासकर उनके गृह राज्य असम में खराब हो जाएगी।

उन्होंने आरोप लगाया कि विधयाक ब्लैकमेलिंग पर पर उतर आया, उसने तीन चार दिन पहले दिल्ली के लोदी रोड एक होटल के कमरा नंबर 701 में बुलाया, जहां उन्हें एक करोड़ रुपया लेकर पहुंचना था। सांसद अजमल ने थाना साऊथ एवेन्यू की पुलिस को सूचित किया। उन्होंने माविया के बुलाने पर पुलिस के साथ अपनी कारोबारी कंपनी के सीए जमाल अख्तर खान को होटल भेजा। उन्होंने दावा किया कि होटल में माविया ने उससे मंगाई गई रकम देने को कहा, परंतु अख्तर ने माविया से कहा कि वह तो खाली हाथ आया है। सांसद ने दावा किया कि विधायक माविया सीए अख्तर पर नाराज होने लगा तभी पुलिस कमरे में आ गई और उसे पकड़ कर थाने ले गई।

पुलिस ने 19 अगस्त को माविया अली के खिलाफ एक्सटार्शन की धारा 384 में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने माविया को नई दिल्ली की पटियाला कोर्ट में पेश किया जहां से मेट्रोपोलिटयन मैजिस्ट्रेट अम्बिका सिंह ने तिहाड़ जेल भेज दिया। वहां के एसएचओ विजय दहिया मामले की जांच कर रहे हैं। उन्होंने बुधवार को बताया कि पुलिस ने माविया के पास से मोबाइल जब्त किया था। पत्रकारों ने माविया अली का पक्ष भी जानना चाहा लेकिन वह उपलब्ध नहीं था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App