ताज़ा खबर
 

UP से सबसे ज्यादा लोग जाएंगे हज, भारतीय कोटे में हुई 25 हजार की बढ़ोत्तरी

हज 2019 के लिए उत्तर प्रदेश से 34397 और पश्चिम बंगाल से 8470 लोग सऊदी अरब के लिए जा सकते हैं। हिमाचल से सबसे कम केवल 72 लोग ही हज यात्रा पर जा सकते हैं।

Author Updated: April 19, 2019 4:24 PM
सऊदी अरब की ओर से भारतीय हज कोटे को बढ़ाया गया फोटो सोर्स- जनसत्ता

सऊदी अरब की ओर से भारतीय हज कोटे को बढ़ाकर दो लाख किए जाने के कारण इस साल उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों के सभी आवेदकों का इस पवित्र यात्रा पर जाने का सपना साकार हो सकेगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सऊदी अरब द्वारा भारत का कोटा बढ़ाये जाने से उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, पंजाब, गोवा, मणिपुर, ओडिशा, पुडुचेरी, दादर एवं नागर हवेली, लक्षद्वीप, चंडीगढ़, दमन एवं दीव, हिमाचल प्रदेश, झारखण्ड, त्रिपुरा में वोटिंग लिस्ट क्लियर हो गई है जिससे तकरीबन सभी आवेदकों का हज पर जाने का तय हो गया है।

मंत्रालय का बयान: अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, “सऊदी अरब के हज मंत्रालय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आग्रह पर भारत का हज कोटा बढ़ा कर 2 लाख कर दिया है और इस फैसले को शुक्रवार को आधिकारिक रूप से घोषित भी कर दिया है।” दरअसल, फरवरी, 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सऊदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज एवं अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की एक बैठक में सऊदी अरब ने भारत के हज कोटे में लगभग 25 हजार की बढ़ोत्तरी की थी जिससे भारत का हज कोटा 2 लाख हो गया।

बता दें कि आजादी के बाद पहली बार रिकॉर्ड दो लाख भारतीय मुसलमान बिना सब्सिडी के हज यात्रा 2019 पर जाएंगे, जिनमें बिना ‘मेहरम’ (पुरुष रिश्तेदार) के हज पर जाने वाली 2340 मुस्लिम महिलाएं भी शामिल हैं। हज-2019 के लिए उत्तर प्रदेश से 34397, पश्चिम बंगाल से 8470, गोवा से 191, मणिपुर से 499, ओडिशा से 698, आंध्र प्रदेश से 2138, असम से 3588, बिहार से 4950, हिमाचल प्रदेश से 72, झारखण्ड से 2233, पंजाब से 342, त्रिपुरा से 110 आवेदन प्राप्त हुए थे। हज कोटा बढ़ाये जाने से यह सभी आवेदक हज 2019 पर जा सकेंगे।

हज कोटे में बढ़ोतरी: सूत्रों के अनुसार, “अल्पसंख्यक कार्य मंत्री नकवी लगातार इस प्रयास में थे कि भारतीय हज कोटा कम से दो लाख तक पहुंच जाए। नकवी ने कुछ महीने पहले सऊदी अरब के दौरे पर भी हज कोटे में बढ़ोतरी की मांग सऊदी सरकार के समक्ष रखी थी। बाद में मोहम्मद बिन सलमान के भारत दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे आग्रह किया जिसके बाद भारतीय हज कोटे में बढ़ोत्तरी का फैसला हुआ।”

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X