ताज़ा खबर
 

अयोध्या में मंच से बीजेपी मंत्री का ऐलान: योगी आदित्यनाथ के हाथों ही होगा मंदिर का निर्माण

कार्यक्रम में मंचासीन राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के नेताओं ने जमकर उन हिंदूवादी नेताओं की आलोचना की जिन्होंने सरयू नदी के तट पर आयोजित कार्यक्रम को रोकने के लिए बयान दिए थे। इस कार्यक्रम में मुस्लिमों की तादाद भी बेहद कम थी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो सोर्स- एपी)

यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने बड़ा बयान दिया है। चौधरी ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनाने का शुभ काम मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के शुभ हाथों से ही होगा। मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी आरएसएस के अनुषांगिक संगठन राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के कार्यक्रम में बोल रहे थे।

पहले राष्ट्रीय मुस्लिम मंच ने योजना बनाई थी कि सरयू नदी के तट पर 1500 मुस्लिम गुरुवार को सरयू नदी के तट पर नमाज अदा करेंगे। वहीं पांच लाख बार कुरआन की आयतों का पाठ भी किया जाएगा। लेकिन इस कार्यक्रम को हिंदूवादी नेताओं और हनुमानगढ़ी के विरोध के बाद रद कर दिया गया। ये कार्यक्रम इसके बाद एक मजार के पास आयोजित किया गया।

कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए आए मंत्री ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि योगी जी का राम मंदिर बनाने का संकल्प अटल है। उनके कार्यकाल के दौरान ही राम मंदिर बनकर रहेगा। वहीं कार्यक्रम में मंचासीन राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के नेताओं ने जमकर उन हिंदूवादी नेताओं की आलोचना की जिन्होंने सरयू नदी के तट पर आयोजित कार्यक्रम को रोकने के लिए बयान दिए थे। इस कार्यक्रम में मुस्लिमों की तादाद भी बेहद कम थी।

बता दें कि राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के इस आयोजन का विरोध हनुमानगढ़ी के साधू बाबा राजू दास और शिवसेना के नेता संतोष दुबे और हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी ने किया था। विरोध के बाद मंच ने कार्यक्रम स्थल को बदलने की घोषणा कर दी थी। मंच के नेता रज़ा रिज़वी ने कहा हम सौहार्द बढ़ाने के लिए आए थे लेकिन अब विरोध हो रहा है, हम कोई विवाद नहीं चाहते हैं इसीलिए हमने सरयू तट पर कार्यक्रम को रद कर दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App