ताज़ा खबर
 

योगी राज में भाजपाइयों की दबंगई, बीजेपी नेता के बेटे की गाड़ी रोकने पर इंस्पेक्टर और दरोगा से हाथापाई, वर्दी नोच डाली

जानकारी के मुताबिक बीजेपी नेता संजय त्यागी का बेटा अंकित त्यागी अपने दोस्त के साथ हूटर बजाते हुए निकल रहे थे। जिस पर इंस्पेक्टर ने अंकित की गाड़ी को रोककर हूटर उतारने लगे तो युवक ने 24 घंटे में वर्दी उतरवाने की धमकी दी।

बीजेपी नेता के बेटे की हूटर लगी गाड़ी रोकने पर भाजपाइयों की दबंगई। (Photo Source: Screenshot/Youtube)

पुलिस थानों में बवाल को लेकर सपा को घेरने वाली बीजेपी शनिवार को खुद कटघरे में खड़ी हो गई। उत्तर प्रदेश में बीजेपी की नवगठित सरकार के मुखिया योगी आदित्य नाथ की हिदायत का भी कार्यकर्ताओं और नेताओं पर कोई असर पड़ता हुआ नहीं दिख रहा है। मेरठ में बीजेपी नेता की गुंडागर्दी और भाजपाइयों का बवाल देखने को मिला। यह बवाल बीजेपी नेता के बेटे की कार पर हूटर लगा होने के कारण शुरू हो गया। आरोप है कि बीजेपी नेता के बेटे ने पुलिस के साथ मारपीट और दरोगा तथा इंस्पेक्टर के साथ हाथापाई भी की। बाद में दबाव के कारण पुलिस को भाजपा नेता के बेटे को छोड़ना पड़ा। चौराहे पर चैंकिंग कर रहे पुलिस इंस्पेक्टर ने जब चौराहे पर हूटर बजाते हुए निकल रहे बीजेपी नेता संजय त्यागी के बेटे को रोका तो उन्हें वर्दी उतारने की धमकी मिली।

जानकारी के मुताबिक बीजेपी नेता संजय त्यागी का बेटा अंकित त्यागी अपने दोस्त के साथ हूटर बजाते हुए निकल रहे थे। जिस पर इंस्पेक्टर ने अंकित की गाड़ी को रोककर हूटर उतारने लगे तो युवक ने 24 घंटे में वर्दी उतरवाने की धमकी दी। पुलिस ने अंकित को थाने ले जाने की कोशिश की, जिस पर अंकित ने पिता को कॉल कर दी। संजय त्यागी अपने कुछ साथियों के साथ मौके पर पहुंचे। इंस्पेक्टर के साथ हाथापाई भी की गई। अंकित को जीप में बैठाकर मेडिकल के लिए ले जाया जा रहा था। संजय त्यागी ने जीप से अंकित को खींचने की कोशिश की। पुलिस ने रोका तो हाथापाई पर उतर गए। इंस्पेक्टर और एसआई की वर्दी नोच डाली।

मामले की जानकारी होते ही कई बीजेपी कार्यकर्ता और नेता थाने पहुंच गए और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। बाद में इस मामले की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को हुई। जिसके बाद मामला शांत कराने की कोशिश शुरू हुई। आखिर में पुलिस को बीजेपी नेता के बेटे को थाने से छोड़ना पड़ा। वहीं, बीजेपी नेता संजय त्यागी का आरोप हैं कि पुलिस ने पहले उनके बेटे और फिर उनके साथ बदसलूकी और मारपीट की। पुलिस को अंकित को जीप में भर कर ले जाने लगी, मैंने कसूरपूछा तो मुझसे भी बदसलूकी की गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App