ताज़ा खबर
 

मेरठ: चार गुना बढ़े बलात्कार

जिले में 9 जनवरी से 26 मई के बीच 85 बलात्कार हो चुके हैं।

Author June 7, 2017 5:42 AM
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

योगी आदित्यनाथ के राज में पुलिस पूरी तरीके से स्वतंत्र है, लेकिन अपराध पर काबू पाने में नाकाम है। जिले में 9 जनवरी से 26 मई के बीच 85 बलात्कार हो चुके हैं। इस पर भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष रश्मि सिंह ने कहा कि वे मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री से मुलाकात करेंगी ताकि अमेठी में कानून का राज कायम हो सके। पांच महीने में जो बलात्कार हुए हैं उनमें सबसे ज्यादा बलात्कार की घटनाएं योगीराज की हैं जबकि अखिलेश सरकार मेंआंकड़े कम हैं। पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक अखिलेश सरकार में 9 जनवरी से 18 मार्च के बीच 68 दिन में 29 बलात्कार हुए थे, लेकिन योगी राज के 68 दिन में 19 मार्च से 26 मई के बीच 56 बलात्कार हो चुके हैं। बलात्कार के बाद महिलाओं और लड़कियों के शारीरिक जांच परीक्षण से जुड़ी एक महिला डॉक्टर ने बताया कि सबसे ज्यादा बलात्कार की घटनाएं नाबालिग लड़कियों के साथ हुई हैं।

HOT DEALS
  • Micromax Dual 4 E4816 Grey
    ₹ 11978 MRP ₹ 19999 -40%
    ₹1198 Cashback
  • Apple iPhone 7 Plus 128 GB Rose Gold
    ₹ 61000 MRP ₹ 76200 -20%
    ₹6500 Cashback

इस सरकार में नशे का कारोबार बहुत तेजी से बढ़ा है जबकि अमेठी के पूर्व पुलिस अधीक्षक अनीस अंसारी ने नशे के खिलाफ अभियान चला रखा था। इस अभियान में कई बड़े कारोबारी जेल भी गए थे।योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि कानून का राज होगा लेकिन ऐसे राज में फरियादी जेल जाते हैं। भ्रष्टाचारी थाने में चाय पीते हैं। टीकरमाफी के थानेदार एक फरियादी को 30 घंटे थाने में बंद कर रखा था जबकि वह अपनी पुश्तैनी जमीन पर कब्जे की शिकायत करने गया था। अपराध रोकने के लिए 100 नंबर पुलिस है। लेकिन इस नंबर पर पुलिस फोन करने वाले को थाने उठा ले जाती है। इसके बाद लेन देन करती है। लेन देन करने के आरोप में संग्रामपुर थाने के दो सिपाही निलंबित हो चुके हैं।

 

चलते ऑटो में महिला से किया गैंगरेप, दरिंदों ने 9 महीने की बच्ची को ऑटो से फेंका

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App