ताज़ा खबर
 

ट्रेन के विकलांग कोच में बीमार महिला से जीआरपी सिपाही ने किया बलात्कार

यात्रियों ने हंगामा कर विकलांग कोच को खुलवाया। इसके बाद भीड़ ने आरोपी सिपाही को जमकर पीटा।

Author मेरठ | May 31, 2017 02:40 am
प्रतीकात्मक तस्वीर

मेरठ के लिसाड़ी गेट निवासी एक मुसलिम महिला के साथ जीआरपी के एक सिपाही ने चंडीगढ़ एक्सप्रेस के विकलांग कोच में बलात्कार किया। इस मामले की जानकारी तब मिली जब मंगलवार को सुबह यात्रियों ने हंगामा कर विकलांग कोच को खुलवाया। इसके बाद भीड़ ने आरोपी सिपाही को जमकर पीटा। सिपाही ने बिजनौर के जीआरपी थाने जाकर अपनी जान बचाई। बिजनौर पुलिस ने आरोपी सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।  तबियत खराब होने की वजह से मेरठ निवासी एक महिला चांदपुर से बिजनौर जाने के लिए लखनऊ-चंडीगढ़ एक्सप्रेस के विकलांग कोच में सवार हुई। इस कोच में एक यात्री पहले से ही सवार था। इस दौरान मुरादाबाद जीआरपी एस्कोर्ट पर चल रहा सिपाही कमल शुक्ला भी कोच में पहुंच गया। उसने कोच में पहले से सफर कर रहे यात्री को राइफल की बट से पीटकर कोच से उतार दिया। इसके बाद उसने चांदपुर से सवार हुई महिला के साथ कोच में ही बलात्कार किया। मंगलवार सुबह करीब पौने दस बजे जब बिजनौर स्टेशन पर जब ट्रेन पहुंची, तो ट्रेन में आगे जाने के लिए मौजूद यात्रियों ने कोच खुलवाने के लिए हंगामा किया।

जब काफी देर तक कोच नहीं खुला तो ट्रेन के गार्ड एसके केन भी वहां पहुंच गए। यात्रियों के साथ उन्होंने ने भी सिपाही से कोच खोलने के लिए कहा। इस पर सिपाही ने गार्ड और भीड़ को धमकाना शुरू कर दिया। काफी हंगामे के बाद जब कोच खोला गया तो सिपाही अर्द्धनग्न अवस्था में था। उसकी राइफल दूसरी सीट पर पड़ी हुई थी। महिला के साथ बलात्कार की जानकारी होने पर भीड़ ने सिपाही की जमकर धुनाई की। सिपाही ने जीआरपी थाने में घुसकर अपनी जान बचाई। आरोपी सिपाही का कहना है कि महिला बीमार थी। चांदपुर स्टेशन पर उसने सीट दिलाने का अनुरोध किया था। तबियत खराब होने के कारण उसने उसको विकलांग कोच में बैठाया था।जीआरपी के पुलिस अधीक्षक एके चौधरी के मुताबिक सिपाही कमल शुक्ल जीआरपी मुरादाबाद में तैनात है। कमल के साथ दूसरा सिपाही ओम बहादुर भी डयूटी पर तैनात था। दोनों की ड्यूटी मुरादाबाद से जगाधरी तक थी। दूसरा सिपाही ओम बहादुर एसी कोच में ड्यूटी पर था। बिजनौर के पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा ने बताया कि आरोपी सिपाही को गिरफ्तार कर मुकदमा कायम कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि पीड़ित महिला का मेडिकल कराकर मामले की जांच की जा रही है।

 

 

बाबरी मस्जिद केस: 20 हजार के निजी मुचलके पर सीबीआई कोर्ट ने सभी 12 आरोपियों को दी जमानत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App