ताज़ा खबर
 

कासगंज हिंसा: मृतक चंदन को श्रद्धांजलि के दौरान तस्वीर में हंसते दिखे बीजेपी नेता

मेरठ में बीजेपी नेताओं ने रविवार (28 जनवरी) को श्रद्धांजलि सभा आयोजित की थी। इस मौके पर छीपी टैंक पर दीप प्रजवल्लन का कार्यक्रम हुआ और मौन रखकर चंदन को श्रद्धांजलि दी गई। इस कार्यक्रम की एक तस्वीर काफी हैरान कर देने वाली है।

Kasganj, Kasganj violence, Kasganj riot, Uttar Pradesh, bjp, bjp leaders paying tribute, bjp leader laughing, up bjp, meerut bjp, Chandan Gupta, UP Police, Uttar Pradesh police, Uttar Pradesh cm, Yogi Adityanath, lucknow news, Hindi news, News in Hindi, Jansattaकासगंज में शनिवार को पेट्रोलिंग करते सिक्यूरिटी फॉर्सेस के जवान। (Express Photo by Praveen Khanna)

उत्तर प्रदेश के कासगंज में 26 जनवरी को हुई हिंसा में मारे गये युवक चंदन को श्रद्धांजलि देने के लिए मेरठ में बीजेपी नेताओं ने रविवार (28 जनवरी) को श्रद्धांजलि सभा आयोजित की थी। इस मौके पर छीपी टैंक पर दीप प्रजवल्लन का कार्यक्रम हुआ और मौन रखकर चंदन को श्रद्धांजलि दी गई। इस कार्यक्रम की एक तस्वीर काफी हैरान कर देने वाली है। कार्यक्रम के दौरान बीजेपी नेता दीप जलाते हुए हंसते दिख रहे हैं। श्रद्धांजलि सभा में कैंट विधायक सत्यप्रकाश, संयुक्त व्यापार संघ के अध्यक्ष नवीन गुप्ता और बिजेंद्र अग्रवाल, अरुण वशिष्ठ, नीरज त्यागी समेत कई बीजेपी स्थानीय नेता शामिल हुए। बीजेपी नेताओं ने मृतक चंदन के परिजनों के लिए 50 लाख रुपये मुआवजे की मांग की है। इसके अलावा उन्होंने आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। बता दें कि कासगंज-एटा क्षेत्र के सांसद राजवीर सिंह ने चंदन गुप्ता को अपना आदमी बताया था। राजवीर सिंह ने चंदन की मौत पर कहा था, ‘यह घटना योजनाबद्ध तरीके से अंजाम दी गई थी चंदन गुप्ता हमारा आदमी था।’

यह तस्वीर दैनिक जागरण अखबार में छपी है।

मृतक चंदन गुप्ता के परिवार वालों ने बाद में कहा था कि चंदन किसी दल या संगठन से नहीं जुड़ा हुआ था। वह सिर्फ तिंरगा यात्रा में शिरकत करने गया था। बता दें कि गणतंत्र दिवस पर विश्व हिन्दू परिषद, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, बजरंग दल समेत विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ताओं द्वारा कासगंज के बड्डूनगर में मोटरसाइकिल रैली निकाले जाने के दौरान दोनों पक्षों के बीच पथराव और गोलीबारी हुई थी, जिसमें एक युवक की मौत हो गयी थी तथा एक अन्य जख्मी हो गया था। इस बीच, कासगंज शहर में स्थिति धीरे-धीरे सामान्य हो रही है। हालांकि अधिकतर बाजार सोमवार (29 जनवरी) को भी बंद हैं, लेकिन सड़कों पर लोगों का आवागमन शुरू हो चुका है। बहरहाल, जिला प्रशासन ने इंटरनेट सेवाओं को एहतियातन आज रात 10 बजे तक बंद रखा है। पुलिस, पीएसी और रैपिड एक्शन फोर्स की टुकड़ियां शहर में लगातार गश्त कर रही हैं। शहर की सीमाएं अब भी सील हैं।

जिलाधिकारी आर.पी. सिंह ने बताया कि कासगंज में हालात सामान्य हैं। रविावर रात एक मकान में आग लगने की घटना का पता चला था, हालांकि आग शार्ट र्सिकट की वजह से लगी थी। पिछले 36 घंटे के दौरान शहर में कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है। मामले के आरोपियों की धरपकड़ जारी है। जिलाधिकारी के मुताबिक वारदात में मारे गये युवक के परिवार को आज 20 लाख रुपये का चेक दिया गया। इस दौरान परिजन ने युवक को शहीद का दर्जा दिये जाने की मांग की। जिला प्रशासन ने कहा कि परिवार सरकार को अगर सम्बंधित मांगपत्र दे तो उसे शासन के पास भेज दिया जाएगा। हालांकि अभी तक कोई पत्र नहीं मिला है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मेरठ: देखते रह गए पुलिसवाले, तीसरी बार बॉयफ्रेंड संग भागी 16 साल की लड़की
2 मुजफ्फरनगर दंगों के चलते BJP MLA संगीत सोम को ऑस्‍ट्रेलिया ने नहीं दिया वीजा
3 गौ हत्या के केस में यूपी पुलिस ने दो नाबालिग मुस्लिम लड़कियों को भेजा जेल
IPL 2020 LIVE
X