ताज़ा खबर
 

यूपी: सरकारी कार्यक्रम में बेहोश हो गए कई दिव्‍यांग, योगी के मंत्री बोले- भगवान राम ने भी उठाई थी तकलीफ

दिव्यांगों के बैठने व गर्मी से बचाव के कोई इंतजाम न होने से ट्राई साइकिल वितरण के दौरान कई दिव्यांग बेहोश हो गए।

Author May 7, 2017 08:32 am
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ।(फोटो: PTI)

प्रदेश सरकार के पिछड़ा वर्ग व दिव्यांगजन मंत्री ओमप्रकाश राजभर शनिवार को जिले में दिव्यांगों के लिए आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए थे, जहां पर उन्हें ट्राई साइकिल का वितरण करना था। इस दौरान कार्यक्रम स्थल पर काफी अव्यवस्थाओं के कारण कई दिव्यांग बेहोश हो गए। मीडिया की ओर से इस बारे में पूछे जाने पर मंत्री जी ने कहा कि कुछ पाने के लिए तकलीफ उठानी पड़ती है। भगवान राम को भी काफी तकलीफें उठानी पड़ी थी। प्रदेश के पिछड़ा वर्ग व दिव्यांग जन मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने शनिवार को दिव्यांगों को ट्राई साइकिल वितरित करने के लिए शहर के महिला डिग्री कॉलेज पहुंचे थे। इस दौरान वहां दिव्यांगों के बैठने व गर्मी से बचाव के कोई इंतजाम न होने से ट्राई साइकिल वितरण के दौरान कई दिव्यांग बेहोश हो गए।

वहां मौजूद मीडिया कर्मियों ने जब मंत्री जी से कार्यक्रम स्थल पर अव्यवस्थाओं के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा, “भगवान राम को भी गद्दी मिलने से पहले वनवास में काफी तकलीफें उठानी पड़ी थी। गर्मी बरसात सब कुछ झेलना पड़ा था, लेकिन जब वो गद्दी पर बैठे तो वहां धूप नहीं थी। कुछ पाने का लिए संघर्ष करना पड़ता है।” हालांकि उन्होंने वहां मौजूद दिव्यांगों को हर तरह की मदद करने की बात कहते हुए उनके लिए बेहतर योजनाओं को लागू करने की बात कही।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य अपनी सरकार की प्राथमिकताएं गिनवाई और दावा किया कि योगी सरकार विकास के लिए प्रतिबद्ध है। इस दौरान उन्होंने बूचड़खानों, एंटी रोमियो दल पर सरकार की स्पष्ट राय रखी। उन्‍होंने कहा कि योगी सरकार 100 दिन पूरे होने के बाद प्रदेश की जनता को फर्क दिखना शुरू हो जाएगा। मौर्य ने कहा, “इस संदर्भ में सरकार एक श्वेत पत्र भी जारी करेगी। जनता को हम 100 दिनों में यह बाताएंगे कि 100 दिनों पहले हमको उप्र कैसा मिला था।”

उप मुख्यमंत्री का कहना था कि एंटी-रोमियो दल के नाम पर किसी भी तरह की ज्यादती रोकना उनकी सरकार की जिम्मेदारी है। उन्होंने माना कि इस अभियान के तहत उप्र पुलिस से कुछ गलतियां हुई हैं। लेकिन अभियान के चलते प्रदेश की महिलाएं सुरक्षित महसूस कर रही हैं। मौर्य का दावा था कि योगी सरकार कम से कम 25 साल शासन करेगी और तब तक ये अभियान ठंडा नहीं पड़ेगा। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि गरीब का हक, किसी को लूटने का हक नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App