ताज़ा खबर
 

यूपी: पद्मावती पर बैन की मांग के बीच दीपिका, भंसाली के सिर काटने पर इनाम रखने वाले पर मुकदमा हुआ दर्ज

संजय लीला भंसाली व अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का सिर काटने वाले को पांच करोड़ रुपये देने का ऐलान करने वाले अखिल भारतीय क्षत्रिय युवा महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अभिषेक सोम के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।
रानी पद्मावती के रोल में अभिनेत्री दीपिका पादुकोण

‘पद्मावती’ को लेकर फिल्म निमार्ता-निर्देशक संजय लीला भंसाली व अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का सिर काटने वाले को पांच करोड़ रुपये देने का ऐलान करने वाले अखिल भारतीय क्षत्रिय युवा महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अभिषेक सोम के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उनके खिलाफ मेरठ के थाना नौचंदी में मुकदमा दर्ज हुआ है। एसओ नौचंदी मनोज कुमार मिश्रा ने बताया कि एफआईआर आईपीसी की धारा 115 और 505 के तहत दर्ज कर अभिषेक सोम की तलाश की जा रही है। आरोपी शास्त्रीनगर में रहता है। इस मामले में आरोपी पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वहीं एसपी सिटी मान सिंह चौहान ने बताया कि अभिषेक सोम के खिलाफ नौचंदी थाना पुलिस में मुकदमा दर्ज कराया गया है। उन पर हत्या जैसे जघन्य अपराध के लिए उकसाने का आरोप है। अभिषेक सोम ने संजय लीला भंसाली और दीपिका पादुकोण का सर कलम करने वाले को पांच करोड़ रुपया इनाम देने की घोषणा की थी। तो वहीं  अखंड राजपूताना सेवा संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष आर.पी. सिंह ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि फिल्म ‘पद्मावती’ उत्तर प्रदेश में प्रदर्शित न करने दी जाए। उन्होंने कहा कि किसी भी हालत में यह फिल्म सिनेमाघरों में नहीं लगनी चाहिए।

उन्होंने शनिवार को प्रेस क्लब में कहा, “हम किसी तरह से फिल्म के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन यह फिल्म हमारी भावना और मान-सम्मान के साथ खिलवाड़ है। हम किसी को पैसा कमाने के लिए हमारे इतिहास से छेड़छाड़ नहीं करने देंगे।” उन्होंने कहा, “फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली ने जिस तरह से हमारे गौरवशाली इतिहास के साथ खिलवाड़ किया है, उसे राजपूत समाज बर्दाश्त नहीं करेगा।” वहीं महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष सुमिता सुमन चंद्र कुमार सिंह ने कहा कि भंसाली राजपूतों की प्रतिष्ठा के साथ छेड़छाड़ कर लोकप्रियता पाना चाहते हैं। राजस्थान का राजपूत संगठन करणी सेना पद्मावती की भूमिका निभाने वाली दीपिका पादुकोण की नाक काटने की धमकी दे चुकी है। फिल्म निर्देशक भंसाली हालांकि कई बार कह चुके हैं कि ‘पद्मावती’ देखने के बाद राजपूत समुदाय गर्व महसूस करेगा। कुछ लोग अफवाह फैलाकर लोगों को भड़काने में लगे हैं। उधर, बॉलीवुड में काम करने वाले लोग कहने लगे हैं कि ये कैसे राजपूत वीर हैं, जो एक फिल्म से डर गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.