ताज़ा खबर
 

यूपी: गैंगरेप का केस वापस ना लेने पर पति को पेड़ से बांधा, महिला पर फेंक दिया तेजाब

बुलंदशहर में गैंगरेप पीड़ित एक महिला पर चार लोगों द्वारा एसिड फेंके जाने की खबर है। महिला का आरोप है कि जिन लोगों ने उसपर एसिड फेंका वे पहले उसका बलात्कार भी कर चुके थे।

फिलहाल जिले के ही एक हॉस्पिटल में उसका इलाज चल रहा है। (फोटो- ANI)

 

बुलंदशहर में गैंगरेप पीड़ित एक महिला पर चार लोगों द्वारा एसिड फेंके जाने की खबर है। महिला का आरोप है कि जिन लोगों ने उसपर एसिड फेंका वे पहले उसका बलात्कार भी कर चुके थे। महिला का कहना है कि चारों ने एसिड इसलिए फेंक दिया क्योंकि उसने उनपर लगाए गए रेप के आरोपों को हटवाने से मना कर दिया था। यह घटना रविवार (25 सितंबर) की है। एसिड फेंकने की शिकायत महिला के पति और उसने ही लिखवाई है। 30 साल की उस महिला के चेहरे और गर्दन पर जले के निशान है। फिलहाल जिले के ही एक हॉस्पिटल में उसका इलाज चल रहा है। महिला के पति के मुताबिक, 9 अगस्त को महिला का बलात्कार हुआ था। उन लोगों की शिकायत के बाद लोकल कोर्ट के कहने पर पुलिस ने 2 सितंबर को FIR दर्ज की थी। शख्स ने पुलिस पर भी गंभीर आरोप लगाए थे। उसने कहा था कि पुलिस जानबूझ उसकी शिकायत दर्ज नहीं कर रही। यह घटना कोतवाली थाने के पास ही हुई थी।

शख्स ने कहा कि वह और उसकी पत्नी खेतों में काम कर रहे थे उस वक्त ही आरोपियों ने उन लोगों को आकर धमकाया और केस वापस लेने को कहा। लेकिन जब उसकी पत्नी ने केस लेने से मना कर दिया तो उन्होंने एसिड निकालकर पत्नी पर फेंक दिया। महिला ने ANI को बताया, ‘उन लोगों ने मेरे पति को पेड़ से बांधकर मेरे ऊपर एसिड फेंक दिया। उन लोगों ने पहले मेरा बलात्कार किया था। उसकी शिकायत दर्ज करवाने के बाद से वे लोग हमें धमकाते रहते थे। ‘

बुलंदशहर से एसपी मान सिंह ने बताया कि उन लोगों ने शिकायत लिखकर पीड़ित परिवार को सुरक्षा मुहैया करवा दी है। साथ ही एसपी मानसिंह ने बताया कि वे लोग छानबीन कर रहे हैं। वहीं सभी आरोपी फिलहाल फरार हैं। एसपी मान सिंह ने बताया कि चार में से तीन लोगों की पहचान हो गई है। उनके नाम सुरजीत, परमजीत और वीरपाल हैं।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App