ताज़ा खबर
 

अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के बीच झगड़ा सुलझाने के लिए मुलायम सिंह यादव बदल सकते हैं सपा प्रत्याशियों की लिस्ट

मंगलवार को शिवपाल यादव, आजम खान, राज्यसभा सदस्य बेनी प्रसाद वर्मा और अतीक अहमद ने मुलायम सिंह से उनके आवास पर मुलाकात की थी।

देर रात मुलायम सिंह से मुलाकात के बाद पार्टी अध्यक्ष शिवपाल यादव ने जारी की थी लिस्ट

समाजवादी पार्टी में टिकट बंटवारे को लेकर सुलगने वाली चिंगारी को शांत करने के लिए पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव पहले ही एक्शन मूड में हैं। चुनाव से पहले शिवपाल यादव और अखिलेश के बीच टिकट बंटवारे पर कोई टकराव उत्पन्न् न हो इसके लिए मुलायम सिंह यादव कोशिश में जुट गए हैं जिसके लिए घोषित प्रत्याशियों में से कुछ बदले जाने की संभावना जताई जा रही है।

प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव के 175 उम्मीवारों को टिकट दिए जाने के बाद सीएम अखिलेश यादव ने भी अपनी लिस्ट मुलायम सिंह यादव को सौंपी थी। इस लिस्ट में दागियों समेत दो दर्जन प्रत्याशियों नाम काट दिया गया था। बता दें कि अखिलेश द्वारा उम्मीदवारों की लिस्ट सौंपे जाने पर शिवपाल यादव ने ऐतराज जताया था। वहीं टिकट बंटवारे को लेकर पार्टी में मंगलवार से मंथन जारी है। इस बाबत मंगलवार को शिवपाल यादव, आजम खान, राज्यसभा सदस्य बेनी प्रसाद वर्मा और अतीक अहमद ने मुलायम सिंह से उनके आवास पर मुलाकात की थी।

बताया जा रहा कि इस मुलाकात के दौरान शिवपाल और मुलायम के बीच उम्मीवारों की लिस्ट पर चर्चा हुई जिसके बाद शिवपाल यादव ने इसका फैसला मुलायम पर ही छोड़ दिया है। सूत्रों की मानें तो आजम खान ने अपने कुछ करीबियों के लिए टिकट मांगा है तो बेनी प्रसाद ने अपने बेटे को टिकट देने की बात कही। टिकट बंटवारें को लेकर पार्टी में पिछले दो दिनों से मंथन जारी है लेकिन इस मुलाकात में कोई निर्णय नहीं लिया जा सका है।

मुलायम सिंह यादव ने घोषित उम्मीदवारों में कुछ नामों में बदलाव के लिए शिवपाल यादव को मना लिया है। हालांकि बची हुई सीटों के टिकट पर फैसला संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद लिए जाने पर बात बनी है। गौरतलब है कि शिवपाल यादव और अखिलेश के बीच पिछले काफी समय से अनबन चल रही है। दोनों के बीच जारी विवाद को पहले भी मुलायम सिंह यादव ने ही खत्म कराया था।

वीडियो: मुलायम सिंह यादव बोले- हमारा परिवार एक है, पार्टी एक है; झगड़े की बात से किया साफ इनकार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App