ताज़ा खबर
 

योगी आदित्य नाथ ने बताई शादी नहीं करने की वजह, फायदा भी गिनाया

जब उनसे पूछा गया कि कभी आपका मन शादी करने का नहीं हुआ? इस सवाल पर योगी आदित्य नाथ की हंसी छूट गई। मुस्कुराते हुए योगी ने जवाब दिया।

यूपी के सीएम योगी आदित्य नाथ।(फोटो- पीटीआई)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ मे इस राज से पर्दा उठाया है कि उन्होंने आज तक शादी क्यों नहीं की। एक टीवी शो में उनसे सवाल पूछा गया कि क्या मन में ये खयाल कभी नहीं आया कि शादी करके घर बसा लूं। इस पर सीएम योगी ने जवाब दिया कि मैं खुशनसीब हूं कि मैंने शादी नहीं की, क्योंकि जिन लोगों ने सादी की है मैं उन लोगों की हालत देख रहा हूं। योगी आदित्य नाथ ने ये बातें इंडिया टीवी के शो आप की अदालत में कही। योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में बढ़ रही आपराधिक घटनाओं के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि यूपी में जो भी अपराध करेगा उसे ठोक दिया जाएगा। आपको बते दें कि 19 मार्च को योगी आदित्य नाथ द्वारा उत्तर प्रदेश की सत्ता संभालने के बाद से ही प्रदेश में हत्या, बलात्कार और डकैती जैसी आपराधिक घटनाओं में इजाफा हो गया है। समाजवादी पार्टी सहित तमाम विपक्षी पार्टियां योगी सरकार को इसी खराब लॉ ओंड ऑर्डर के मुद्दे पर घेरने में लगे हुए हैं।

अपने और अपनी सरकार पर उठ रहे सवालों का जवाब देने योगी आदित्य नाथ इंडिया टीवी के कार्यक्रम आप की अदालत में पहुंचे थे। शो के एंकर रजत शर्मा ने जब उनसे पूछा कि एक तो आप संन्यासी बन गए ऊपर से अपनी माता जी से ही भिक्षा मांगने पहुंच गए। इस बात पर योगी ने कहा कि मैं एक संन्यासी हूं और हर संन्यासी को ये सब करना पड़ता है। रजत शर्मा ने आगे पूछा कि कभी आपका मन शादी करने का नहीं हुआ? इस सवाल पर योगी आदित्य नाथ की हंसी छूट गई। मुस्कुराते हुए योगी ने जवाब दिया कि मैं खुश हूं कि मैंने शादी नहीं की। योगी ने ये भी कहा कि मैं उन लोगों की स्थिति को देख रहा हूं जिन लोगों ने शादी की है..कम से कम मैं उस टेंशन से फ्री हूं।

 

रजत शर्मा ने जब पूछा कि सत्ता में आने से पहले आप कहते थे कि हमारी सरकार बनने के बाद अपराधी सुधर जाएंग और अपराध खत्म हो जाएगा उसके बाद भी तो अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। इसके जवाब में योगी ने कहा कि जिन लोगों की आपराधिक गतिविधियों पर सरकार ने रोक लगाई है अगर वो लोग अपराध करेंगे तो ठोक दिये जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App