ताज़ा खबर
 

मुस्लिम महिलाओं ने ट्रिपल तलाक की लड़ाई में साथ देने के लिए ‘मोदी भाई’ और योगी को भेजी राखी

न्यूज एजेंसी एएनआई ने मुस्लिम महिलाओं की तस्वीर शेयर की है। इन तस्वीरों में मुस्लिम महिलाओं को हाथ में मोदी और योगी की तस्वीरें और राखी लिए हुए दिखाया गया है।

मुस्लिम महिलाओं ने पीएम मोदी और योगी को भेजी राखी। (Photo Source: ANI Photo)

ट्रिपल तलाक के मुद्दे को लेकर चल रही बहस के बीच मुस्लिम महिलाओं ने अपने ‘भाई’ प्रधानमंत्री नरेंद्र नरेंद्र और उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ को रक्षा बंधन पर अनोखी सौगत भेजी है। ट्रिपल तलाक जैसी कु-प्रथा को लेकर महिलाओं की आवाज उठाने पर उन्होंने योगी और मोदी के प्रयासों की सराहना की है। यूपी की राजधानी लखनऊ में मुस्लिम समुदाय की महिलाओं ने ट्रिपल तलाक का मुद्दा उठाने के प्रयासों की तारीफ करते हुए पीएम मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ को रक्षा बंधन के त्योहार पर राखी भेजी है।

न्यूज एजेंसी एएनआई ने मुस्लिम महिलाओं की तस्वीर शेयर की है। इन तस्वीरों में मुस्लिम महिलाओं को हाथ में मोदी और योगी की तस्वीरें और राखी लिए हुए दिखाया गया है। एक तस्वीर में लिखा है- टू पीएम मोदी भाई। बीते दिनों ट्रिपल तलाक के कई मामले सामने आए। ट्रिपल तलाक के विरोध में मुस्लिम महिलाओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसे खत्म करने के लिए गुहार लगाई थी। यही नहीं चुनाव से पहले भी बीजेपी ने तीन तलाक को खत्म करने की बात कही थी। पीएम मोदी भी कई मौकों पर तीन तलाक के बारे में अपनी राय रख चुके हैं और मोदी सरकार इसे खत्म करने की पक्ष में है। इसी तरह योगी आदित्य नाथ भी ट्रिपल तलाक की निंदा कर चुके हैं।

पीएम मोदी ने भुवनेश्वर में आयोजित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कहा था कि मुस्लिम बहनें तकलीफ में हैं। उनके साथ न्याय होना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर बीजेपी का रुख एक दम साफ है। इसके बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की ओर से द्रौपदी के चीरहरण का उदाहरण देते हुए निशाना साधा था। उन्होंने कहा कि कुछ लोग देश की इस ज्वलंत समस्या को लेकर मुंह बंद किए हुए हैं, तो मुझे महाभारत की वह सभा याद आती है, जब द्रौपदी का चीरहरण हो रहा था, तब द्रौपदी ने उस भरी सभा से एक प्रश्न पूछा था कि आखिर इस पाप का दोषी कौन है। तब कोई बोल नहीं पाया था, केवल विदुर ने कहा था कि एक तिहाई दोषी वे व्यक्ति हैं, जो यह अपराध कर रहे हैं, एक तिहाई दोषी वे लोग हैं, जो उनके सहयोगी हैं, और तिहाई वे हैं जो इस घटना पर मौन हैं। उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि देश का राजनीतिक क्षितिज तीन तलाक को लेकर मौन बना हुआ है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App