ताज़ा खबर
 

शिवपाल यादव का मंत्री पद और उत्तर प्रदेश कैबिनेट से इस्तीफ़ा, भतीजे अखिलेश यादव ने छीने थे सभी अहम विभाग

शिवपाल सिंह को समाजवादी पार्टी के उत्तर प्रदेश इकाई का प्रमुख बनाए जाने से नाराज मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उनसे सभी अहम मंत्रालयों का प्रभार वापस ले लिया था।
अखिलेश यादव और शिवपाल यादव।

उत्तरप्रदेश में समाजवादी पार्टी का अंदरूनी विवाद खुलकर समाने आ गया है। प्रदेश मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से नाराज़ चल रहे शिवपाल सिंह यादव ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने गुरुवार (15 सितंबर) को इसकी घोषणा की। वे अखिलेश सरकार द्वारा सभी अहम मंत्री पद छिने जाने से ख़फ़ा थे। शिवपाल यादव का उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्रिमडल से इस्तीफा देना साबित करता है कि पार्टी में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा। इससे पहले परिवार का झगड़ा खुलकर सामने आने के बाद सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव गुरुवार (15 सितंबर) शाम दिल्ली से यहां पहुंचे और अपने पुत्र और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और भाई शिवपाल यादव से मिलकर कलह को निपटाने की कोशिश शुरू की। जैसे ही मुलायम यहां पहुंचे उन्होंने शिवपाल को तलब किया और हालात को सामान्य बनाने के लिए बंद कमरे में उनके साथ बैठक की। शिवपाल और मुख्यमंत्री अखिलेश में टकराव है।

शिवपाल ने बाद में अखिलेश से उनके आधिकारिक निवास पर मुलाकात की। सूत्रों ने बताया कि मुलायम के निर्देश पर दोनों के बीच यह बैठक हुई। सूत्रों ने बताया कि इसके तत्काल बाद सपा प्रमुख ने अखिलेश से मुलाकात की। इससे पहले मुलायम के चचेरे भाई और सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव ने यहां कहा था, ‘उनके (मुलायम) यहां पहुंचने के बाद सबकुछ ठीक हो जाएगा। उनकी बात अंतिम होगी।’ इससे पहले दिन में रामगोपाल ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की थी और दावा किया था, ‘अखिलेश किसी से भी नाराज नहीं हैं और नेताजी (मुलायम) का फैसला पार्टी में अंतिम है।’ यही बात संवाददाता सम्मेलन में शिवपाल ने भी कही।

ग़ौरतलब है कि समाजवादी पार्टी की मंगलवार (13 सितंबर) को हुई बैठक में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से समाजवादी पार्टी के उत्तर प्रदेश इकाई के प्रमुख का पद वापस ले लिया गया था। अखिलेश की जगह शिवपाल यादव को प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। यह फैसला पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव का था। जवाब में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने चाचा और पार्टी के कद्दावर नेता शिवपाल सिंह यादव से सभी अहम मंत्रालयों का प्रभार वापस ले लिया था और उन्हें समाज कल्याण मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंप दी थी। इसके बाद खबर आई कि शिवपाल अखिलेश से नाराज हैं और सरकार से इस्तीफा दे सकते हैं लेकिन अगले ही दिन मुलायम और शिवपाल के बीच बातचीत हुई थी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.