ताज़ा खबर
 

लखनऊ में जुटे देश भर के शिया मुस्लिम, बीजेपी के एजेंडे पर जताई सहमति, कहा-पूरे देश मे बैन हो गोहत्या

बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट के उस निर्देश का भी समर्थन किया है जिसमें कहा गया है कि अयोध्या विवाद को आपसी सहमति से सुलझाना चाहिए

Author April 6, 2017 11:15 AM
बोर्ड ने कहा कि गौ हत्या बंद करने के संबंध में इराक से फतवा जारी किया गया है (सांकेतिक तस्वीर)

ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड ने केंद्र सरकार से ट्रिपल तलाक को बैन करने वाला कानून बनाने की मांग की है और साथ ही कहा है कि गो हत्या को पूरे देश में बंद होनी चाहिए। बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट के उस निर्देश का भी समर्थन किया है जिसमें कहा गया है कि अयोध्या विवाद को आपसी सहमति से सुलझाना चाहिए। यह सभी प्रस्ताव लखनऊ में बुधवार को हुई एक मीटिंग में पारित किए गए हैं, जिसमें देश भर के करीब 150 शिया मुस्लिम सदस्य इक्ट्ठा हुए थे। एक बोर्ड मेंबर ने कहा कि गो हत्या बंदी को समर्थन इराक में शिया मौलवी द्वारा जारी फतवे के आधार पर दिया है।

बोर्ड की ओर से बोलते हुए मौलाना एजाज अतहर ने कहा, “हमें इराक से फतवा मिला है, जिसके मुताबिक गायों की हत्या नहीं की जानी चाहिए क्योंकि इससे हिन्दुओं की धार्मिक भावनाएं आहत होती हैं। इसलिए, तुरंत प्रभाव से इसपर रोक लगनी चाहिए।” अतहर ने कहा कि बोर्ड इस फतवे के बारे में मुस्लिम समुदाय को जागरुक करेगा। उन्होंने कहा, “शियो मौलवियों ने इसी तरह का फतवा भारत में 40 या 50 साल पहले जारी किया था। उस समय के प्रस्ताव में कहा गया था कि हम जिस देश में रहते हैं उसी के नियमों का पालन करना चाहिए।”

तीन तलाक पर बोलते हुए अतहर ने कहा कि बोर्ड ने केंद्र सरकार से ट्रिपल तलाक को बैन करने वाला कानून लाने की मांग की है, ताकि मुस्लिम महिलाओं और बच्चों के अधिकार सुरक्षित रह सकें। यह बताते हुए कि कुरान में तीन तलाक के बारे में नहीं लिखा है, अतहर ने कहा कि बोर्ड सुप्रीम कोर्ट में भी इस मुद्दे पर अपने विचार रखेगा। इसके अलावा, उन्होंने कहा कि शिया बोर्ड ने अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी का भी स्वागत किया है। बता दें कि हाल ही में कोर्ट ने राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद विवाद को “संवेदनशील” और “भावुक” मुद्दा बताते हुए सलाह दी थी कि इसका समाधान आपसी सहमति से निकालना चाहिए।

राजस्थान: अलवर में गौ-रक्षकों ने गायों की तस्करी के शक में कुछ लोगों को जमकर पीटा, 1 की मौत

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- "तीन तलाक इस्लाम से जुड़ा है, आप नहीं दे सकते दखल"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App