ताज़ा खबर
 

पहचान परेड में ऐसे मिला पूर्व केंद्रीय मंत्री राम शंकर कठेरिया का खोया हुआ कुत्ता

मंगलवार शाम गायब हुए कुत्ते 'कालू' के वापसी की कहानी काफी दिलचस्प रही। तीन एक जैसे दिखने वाले कुत्तों में से पहचान की गई कि असली कालू कौन है।

राम शंकर कठेरिया। (फाइल फोटो)

आखिरकार पूर्व केंद्रीय मंत्री राम शंकर कठेरिया का खोया कुत्ता वापस मिल गया है। कठेरिया का कुत्ता दिल्ली के प्रीतमपुरा में मिला है, जिसकी तस्वीर एक व्यक्ति ने व्हाट्सएप पर पुलिस को भेजी थी। मगर शनिवार को उनके कुत्ते कालू के वापस मिलने की पूरी कहानी काफी दिलचस्प रही। दरअसल भाजपा सांसद रामशंकर कठेरिया का पालतू कुत्ता चार दिन पहले मंगलवार शाम को अचानक लापता हो गया था। घरवालों ने कालू के चोरी होने की आशंका की जताई थी। कठेरिया की पत्‍नी मृदुला कठेरिया ने कुत्‍ते के चोरी होने की तहरीर एसपी सिटी को दी। उन्‍होंने कहा था कि अगर पुलिस आजम खान की भैंस ढूंढ सकती है, तो हमारा कालू क्‍यूं नहीं।

इस तरह मिला-
खोजबीन के लिए कुत्ते की तस्वीरें जारी की गई थी। कुत्ते की तस्वीरें देख तीन अलग-अलग लोगों ने कालू के पाए जाने का दावा किया। जिसके बाद यह पता लगाने के लिए कि इनमें से कौन कुत्ता सा कालू है, तीनों कुत्तों को आगरा मंगवाया गया और पहचान परेड की गई। दिलचस्प बात रही कि तीनों ही कुत्ते दिखने में कालू जैसे ही थे, इसलिए पहचान करने के लिए नया तरीका अपनाया गया। इसके लिए कुत्ते का नाम पुकारा गया। जैसे ही ‘कालू’ नाम बोला गया एक कुत्ता दुम हिलाने लगा, और इस तरह राम शंकर कठेरिया जी के कुत्ते की वापसी हुई। कुत्ता मिलने के बाद परिवार में खुशी का माहौल है। डेढ़ साल के कालू के गुम हो जाने के गम में दूसरे लेबरा डॉग भूरा ने खाना पीना छोड़ दिया था।

Read Also:  रियो: चीनी खिलाड़ी ने जैसे ही जीता सिल्वर मेडल, पोडियम पर ही साथी खिलाड़ी ने किया प्रपोज

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App