ताज़ा खबर
 

यूपी: पीएम नरेंद्र मोदी से बेटी का ‘नामकरण’ करने को कहा, पीएम ने खुद कॉल करके रखा ‘वैभवी’ नाम

उत्तरप्रदेश के मिर्जापुर जिले में रहने वाले एक कपल की बेटी का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद रखा।

Author October 22, 2016 9:02 AM
Uttar Pradesh, Narendra Modi, Vaibhaviबेटी वैभवी के साथ भरत सिंह और विभा।(Express Photo)

उत्तरप्रदेश के मिर्जापुर जिले में रहने वाले एक कपल की बेटी का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद रखा। पीएम मोदी ने खुद कपल को फोन करके कहा कि लड़की का नाम वैभवी रखना है। दरअसल, मिर्जापुर के हंसीपुर गांव के शीकर ब्लॉक में रहने वाले भरत सिंह और विभा ने पीएम मोदी को अपनी बेटी का नामकरण करने के लिए चिठ्ठी लिखी थी। जिसके जवाब में पीएम ने फोन किया। इंडियन एक्सप्रेस से हुई बातचीत में भरत सिंह ने कहा, ‘हम लोगों को एक बेटी चाहिए थी। मेरी कोई बहन नहीं थी। मुझे लगता है कि बेटी मां-बाप की बेटों के मुकाबले ज्यादा देखभाल करती हैं। हमारी बेटी के जन्म के बाद मेरी पत्नी ने पीएम मोदी को पत्र लिखा। उसने पत्र में ‘बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ’ अभियान का जिक्र भी किया था। मेरी पत्नी ने लिखा था कि ऐसी कैंपेन प्रेरणा देती हैं। रियो ओलंपिक में भारत के लिए दो मेडल जीतने वाली लड़कियों का भी मेरी पत्नी ने जिक्र किया था।’

भरत ने बताया कि उसने 13 अगस्त को पीएमओ के पास स्पीड पोस्ट से पत्र भेजा था। भरत ने आगे बताया, ’20 अगस्त को रात 10 बजे के करीब मेरे पास फोन आया। फोन पर बात कर रहे शख्स ने कहा कि पीएम मोदी मुझसे बात करना चाहते हैं। इसके बाद पीएम मोदी लाइन पर आए और लगभग दो मिनट मुझसे बात की। उन्होंने मुझे बधाई दी और बेटी का नाम वैभवी रखने को कहा क्योंकि उसमें मेरा और मेरी पत्नी दोनों के नाम के अक्षर आ रहे थे।’ अगले दिन भरत ने गांववालों को इस बारे में बताया लेकिन किसी ने यकीन नहीं किया।

वीडियो: स्पीड न्यूज

22 अगस्त को उसने उस नंबर पर कॉल किया जिससे उसे फोन आया था। उसने निवेदन किया कि पीएम मोदी के साइन वाला कोई लेटर उसे भेजा जाए जिसमें पीएम की बात का जिक्र हो। इसके बाद 30 अगस्त को भरत के पास पीएम का लेटर आ गया। लेटर पर पीएम मोदी के साइन भी थे। लेटर में लिखा था, ‘घर में बेटी के आने पर बधाई। तुम लोग वैभवी के हर सपने को पूरा करोगे और वैभवी तुम्हारी शक्ति बनेगी। मेरी तरफ से शुभकामनाएं।’

इसके बाद उसने गांववालों को पत्र दिखाया। इसके बाद भरत ने मीडियवालों को यह बात बताई। भरत 12वीं क्लास तक पढा है। वह आगरा में काम करता है। विभा पोस्ट ग्रेजुएट है। पीएमओ ने भी लेटर भेजे जाने की पुष्टि की है।

Next Stories
1 शिवपाल यादव की सपा बैठक से अखिलेश ने बनाई दूरी
2 ‘सौतेली मां रच रही है अखिलेश यादव के खिलाफ साजिश’
3 केन्‍द्रीय योजना के राशन कार्डों पर छपी सीएम अखिलेश की फोटो, बीजेपी बोली- पीएम नरेंद्र मोदी का भी छापो
ये पढ़ा क्या?
X