ताज़ा खबर
 

यूपी: हाइवे पर कार से जा रहे परिवार को रोका, महिला और नाबालिग बेटी से किया गैंगरेप, पुरुषों को बनाया बंधक

गाड़ी में नोएडा की कंपनी में काम करने वाला एक शख्स, उसकी पत्नी, उसकी दो लड़कियां और दो अन्य पुरुष थे। वे सब अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए नोएडा से शहाजहांपुर जा रहे थे।

Author July 31, 2016 1:37 PM
प्रतिकात्मक तस्वीर।

दिल्ली-कानपुर हाईवे पर मां-बेटी से गैंगरेप का मामला सामने आया है। ये दोनों परिवार के बाकी 4 लोगों के साथ नोएडा से यूपी के शहाजहांपुर जा रहे थे। मामला शनिवार (30 जुलाई) की सुबह का बताया जा रहा है। परिवार का आरोप है कि लड़की और उसकी मां को डकैतों ने पकड़कर गैंगरेप किया था।

अंतिम संस्कार में जा रहे थे: पुलिस से मिला जानकारी के मुताबिक, गाड़ी में नोएडा की कंपनी में काम करने वाला एक शख्स, उसकी पत्नी, उसकी दो लड़कियां और दो अन्य पुरुष थे। वे सब अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए नोएडा से शहाजहांपुर जा रहे थे। परिवार के मुताबिक, हादसा रात को तकरीबन 2:30 बजे हुआ। उस वक्त उन्हें रास्ते में लोहे की रॉड पड़ी होने की वजह से गाड़ी को सुनसान NH-91 पर रोकना पड़ा था। परिवार ने बताया कि जैसे ही वे लोग लोहे की रॉड को हटाने के लिए गाड़ी से उतरे लगभग 6 लोगों ने उनपर हमला कर दिया। पहले तो उन लोगों ने सभी लोगों से पैसे, जूलरी और एटीएम कार्ड लूट लिए फिर वे लोग 45 साल की उस महिला और 15 साल की उसकी बड़ी बेटी को वहां से खींचकर ले गए। परिवार के मर्दों को डकैतों ने बंदूक की नोक पर बांधकर रखा। तकरीबन दो घंटे बाद परिवार को छोड़ा गया।

इसके बाद जैसे ही डकैत वहां से गए परिवार वाले फटाफट वहां के पुलिस स्टेशन पहुंचे। लेकिन वहां कोई उनकी शिकायत लिखने को तैयार नहीं था। इसपर परिवार डीआईजी के पास अपनी गुहार लेकर पहुंचा। फिर डीआईजी लक्ष्मी सिंह ने खुद थाने आकर वहां के एसएचओ को ड्यूटी ठीक से ना करने के लिए सस्पेंड कर दिया। फिलहाल मामला दर्ज कर लिया गया है और लोगों की तलाश जारी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App