Muzaffarnagar Muslim youth killed by Hindu girlfriend uncle - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मुज़फ्फरनगर: गर्लफ्रेंड के चाचा ने मुस्लिम युवक को मारी गोली, हत्या के बाद तनाव, दो गिरफ्तार

मुजफ्फरनगर में एक मुस्लिम युवक को उसकी प्रेमिका के चाचा द्वारा गोली मारने का मामला सामने आया है। इसके बाद इलाके में तनाव की स्थिति पैदा हो गई थी।

मुजफ्फरनगर में मुस्लिम युवक को उसकी प्रेमिका के चाचा ने गोली मार दी। (प्रतिकात्मक तस्वीर)

मुजफ्फरनगर में एक मुस्लिम युवक को उसकी प्रेमिका के चाचा द्वारा गोली मारने का मामला सामने आया है। इसके बाद इलाके में तनाव की स्थिति पैदा हो गई थी। मामला मुजफ्फरनगर जिले के वहलाना गांव का है। पुलिस के मुताबिक, जिस लड़के की गोली मारकर जान ली गई है उसका नाम नाजिम था और वह 21 साल का था। लड़के की लाश उसकी प्रेमिका के घर से ही मिली है। दरअसल, लड़की के पिता अरविंद कुमार ने ही पुलिस को सूचना दी थी। रात को 1:30 बजे किए गए फोन पर अरविंद ने कहा था कि उन्होंने किसी चोर को घर में घुसते वक्त गोली मारी है। लेकिन जब पुलिस मौके पर पहुंची तो मामला कुछ और ही था। पुलिस ने मौके पर जाकर देखा तो लड़का सिर्फ अंडरवीयर में था। पुलिस को कुछ शक हुआ। इलाके के एसएसपी दीपक कुमार ने परिवार के सभी लोगों से एक-एक करके पूछताछ की थी। पूछताछ पर लड़की ने बताया कि नाजिम उसका प्रेमी था और उन दोनों को कमरे में अकेले देखकर उसके चाचा ने ही उसे गोली मार दी थी। जिस लड़की ने यह खुलासा किया उसकी उम्र कुल 20 साल है।

जहां लड़की के घरवाले अब भी इस बात पर कायम हैं कि नाजिम उनके घर में जबरन घुसने की कोशिश कर रहा था वहीं, नाजिम के परिवार का दावा है कि लड़की के भाई ने नाजिम को फोन करके अपने घर बुलाया था। नाजिम के घरवालों का यह भी कहना है कि उन्हें नहीं पता था कि नाजिम और उस लड़की का प्रेम प्रसंग चल रहा था। उनका कहना है कि परिवारों के बीच चल रही आसपी लड़ाई के लिए उसे मारा गया है। लड़की के घरवालों का ट्रासंपोर्ट का बिजनेस है और नाजिम के घरवालों का गैराज है। दोनों के बीच 50 हजार रुपए के लिए लड़ाई चल रही थी।

फिलहाल पुलिस ने लड़की के परिवार के चार लोगों के खिलाफ मर्डर का मुकदमा दर्ज किया है। इसमें लड़की के पिता अरविंद, चाचा प्रदीप, भाई प्रवीन और दीपक पर केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल लड़की के पिता और एक भाई को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके चाचा और एक भाई फरार हैं। नाजिम का अंतिम संस्कार बुधवार को कर दिया गया ताकि इलाके में तनाव ना बढ़े। पुलिस ने बताया कि घटना की खबर मिलने के बाद इलाके के सैंकड़ों लोग एकत्रित हो गए थे। लेकिन मामले को बिगड़ने से पहले संभाल लिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App