ताज़ा खबर
 

मुंह में ठूसा दुपट्टा, फिर निकाली आंखें इसके बाद किया नाबालिग के साथ गैंग रेप

जहां एक ओर सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह कहते हैं कि देश के विभिन्न राज्यों की अपेक्षा यूपी में सबसे कम रेप होते हैं, उन्होंने ये बयान कल ही एक प्रोग्राम के दौरान दिया कि यूपी में महज 2 फीसदी रेप होते हैं।

Author Published on: August 20, 2015 11:08 AM
मुंह में ठूसा दुपट्टा, फिर निकाली आंखें इसके बाद किया गैंग रेप

जहां एक ओर सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह कहते हैं कि देश के विभिन्न राज्यों की अपेक्षा यूपी में सबसे कम रेप होते हैं, उन्होंने ये बयान कल ही एक प्रोग्राम के दौरान दिया कि यूपी में महज 2 फीसदी रेप होते हैं। उनके इस बयान पर अभी बगावत शांत भी नहीं हुई कि यूपी के हरदोई जिले में एक 13 साल की दलित लड़की से गैंगरेप और मर्डर की खबर आ गई।

हरदोई की इस दलित बालिका के साथ रेपेस्ट ने पहले आंखें निकाली बाद में रेप किया और फिर मर्डर। पुलिस के मुताबिक गैंग रेप करने वाले आरोपियों ने अपनी पहचान छिपाने के लिए लड़की की आंखें निकाल लीं। बाद में मामला बिगड़ने पर उसका मर्डर कर दिया। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ रेप और हत्या का मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

मामला हरदोई के सुरसा थाना क्षेत्र के फातियापुर इलाके के मजरा लुकताना गांव का है। घटना बुधवार शाम की है। लड़की अपने पिता के लिए दवा लेने गई थी, उसने दवा तो ली लेकिन वह दुकान पर छोड़ आई।

इसके बाद जब परिवार वालों ने दवा के लिए बोला उसे याद आया कि वह दुकान पर ही छोड़ आई। इसके बाद फिर वह मार्केट में उसी दुकान के लिए घर से रवाना हुई लेकिन वापस नहीं लौटी।

काफी देर तक जब लड़की घर नहीं लौटी तो घरवालों ने उसकी तलाश शुरू की। बाद में जब वह अपने खेत गए तो वहां उसका शव मिला। उसके शरीर पर कपड़े नहीं थे। उसके मुंह में दुपट्टा ठूंसा गया था। उसका चेहरा चाकुओं से बुरी तरह गोदा गया था। आंखें निकाल ली गई थीं। प्राइवेट पार्ट को भी चाकुओं से गोदा गया था।

ये सब घर वालों रोंगटे खड़े हो गए। वहीं दूसरी ओर प्रदेश के पूर्व सीएम महिलाओं पर इल्जाम लगाते हैं कि उनके सात गैंगरेप नहीं होता बल्कि एक ही आरोपी करता है। शायद मंत्री के ऐसे बयानों को सुनकर ही राज्य में आए दिन रेपेस्ट को हवा मिल रही है। फिलहाल मामले की पुलिस तहकीकात कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories