ताज़ा खबर
 

दलित नेता ने ब्राह्मणों के खिलाफ डाली फेसबुक पोस्‍ट, मायावती ने पार्टी से निकाला

ऐसे वक्‍त में जब यूपी की ज्‍यादातर राजनीतिक पार्टियां दलितों, मुस्लिमों और पिछड़ी जातियों में समर्थन जुटाने की कोशिश में हैं, बसपा ने पार्टी के बड़ेे नेता को बाहर कर साफ संदेश दिया है।

मायावती (पीटीआई फोटो)

उत्‍तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी के एक दलित नेता को फेसबुक पर ब्राह्मण विरोधी पोस्‍ट लिखने के लिए पार्टी से निकाल दिया गया है। सलेमपुर विधानसभा क्षेत्र के बसपा अध्‍यक्ष संजय भारती पर आरोप लगा था कि उन्‍होंने अपने फेसबुक अकाउंट से ब्राह्मणों के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्‍पण्‍ाियां की हैं। पार्टी में विधानसभा क्षेत्र अध्‍यक्ष का दर्जा विधायक और प्रत्‍याशी से बड़ा हाता हैै, वह सीेधे पार्टी अध्‍यक्ष को रिपोर्ट करता है। पूरा मामला बसपा के आला नेताओं की जानकारी में आने के बाद पार्टी ने ब्राह्मण बिरादरी की नाराजगी से बचने के लिए मायावती से पार्टी से संजय के निष्‍कासन का फरमान सुना दिया। उत्‍तर प्रदेश में करीब 10 प्रतिशत वोटर ब्राह्मण हैं।

मायावती के इस कदम ने बसपा की प्राथमिकता साफ कर दी है। ऐसे वक्‍त में जब यूपी की ज्‍यादातर राजनीतिक पार्टियां दलितों, मुस्लिमों और पिछड़ी जातियों में समर्थन जुटाने की कोशिश में हैं, बसपा ने पार्टी के बड़ेे नेता को बाहर कर साफ संदेश दिया है।

REAL ALSO: यूपी चुनाव: भगवान बुद्ध के नाम पर दलित-मुस्लिम वोटरों को लुभाने की रणनीति बना रहीं मायावती

दूसरी तरफ, पार्टी से निकाले गए संजय का कहना है कि उन्‍हें निष्‍कासन के बारे में कोई जानकारी ही नहीं थी। उन्‍होंने कहा, “मुझे अखबार से इस बात की जानकारी मिली। मैंने सोशल मीडिया पर ब्राह्मणों या किसी अन्‍य जाति के खिलाफ कोई कमेंट नहीं किया है। मेरा फेसबुक हैक हुआ था और किसी ने ऐसे कथित कमेंट्स पोस्‍ट किए होंगे। मैं ऐसी चीजें नहीं पोस्‍ट करता।” संजय ने दावा किया है कि कुछ बसपा नेता उन्‍हें बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि उन्‍होंने अपने फेसबुक अकाउंट के गलत इस्‍तेमाल की शिकायत पुलिस से की है। भारती बसपा की स्‍थापना के समय से ही पार्टी से जुड़े हुए थे।

Next Stories
1 BJP MP हुकुम सिंह के दावों की सच्चाई जानने कैराना पहुंची भाजपा के आठ सदस्यों की टीम
2 ATS ने एकनाथ खड़से को दी क्लिन चिट, कहा- नहीं की गई दाऊद को कोई कॉल
3 इशरत जांच ए‍नकाउंटर की जानकारी के लिए लगाई RTI, गृह मंत्रालय ने कहा- पहले साबित करो भारतीय हो
ये पढ़ा क्या?
X