ताज़ा खबर
 

प्रीति महापात्रा के पक्ष में हो सकती है क्रॉस वोटिंग, मायावती ने बुलाई विधायकों की बैठक

प्रीति महापात्रा के उत्‍तर प्रदेश से राज्‍यसभा उम्‍मीदवार के तौर पर कूदने से राजनीतिक दलों की बेचैनी बढ़ गई है।
Author लखनऊ | June 7, 2016 21:28 pm
दलित वोट बैंक में सेंध लगाने की भाजपा की कोशिशों से चौकन्नी बसपा का साथ कांग्रेस प्रत्याशी कपिल सिब्बल को मिल सकता है। (ANI)

निर्दलीय प्रीति महापात्रा के पक्ष में क्रास वोटिंग की आशंका को देखते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने नौ जून को पार्टी विधायकों की बैठक बुलायी है। प्रीति ने 12वें प्रत्याशी के रूप में नामांकन किया है।

भाजपा ने उत्तर प्रदेश इकाई के उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री शिव प्रताप शुक्ल को प्रत्याशी बनाया है। शुक्ल की जीत सुनिश्चित होने के बाद भी भाजपा के पास सात अतिरिक्त मत रहेंगे। दलित वोट बैंक में सेंध लगाने की भाजपा की कोशिशों से चौकन्नी बसपा का साथ कांग्रेस प्रत्याशी कपिल सिब्बल को मिल सकता है। प्रीति के चुनाव मैदान में उतरने से सबसे अधिक दबाव सिब्बल पर ही है।

आठ विधायकों वाले रालोद का महत्व बढ गया है। कई दल रालोद प्रमुख अजित सिंह के संपर्क में हैं।

राज्‍यसभा चुनाव से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

राज्यसभा चुनाव में सपा से अमर सिंह, बेनी प्रसाद वर्मा, कुंवर रेवती रमण सिंह, विश्वंभर प्रसाद निषाद, सुखराम सिंह यादव, संजय सेठ और सुरेन्‍द्र नागर प्रत्याशी हैं। बसपा ने सतीश चंद्र मिश्र और अशोक सिद्धार्थ को प्रत्याशी बनाया है। कांग्रेस की ओर से सिब्बल, भाजपा की ओर से शुक्ल तथा निर्दलीय प्रत्याशी प्रीति भी मैदान में हैं।

कमोबेश यही हाल विधान परिषद का भी है। यहां 13 सीटों के लिए होने वाले चुनाव में 14 उम्मीदवार मैदान में हैं। क्रास वोटिंग की आशंका अधिक है। एक निर्दलीय विधायक के समर्थन से भाजपा ने दो प्रत्याशी उतारे हैं लेकिन दूसरे प्रत्याशी के लिए उसे 16 अतिरिक्त वोटों की आवश्यकता होगी। विधान परिषद के लिए मतदान दस जून को और राज्यसभा के लिए 11 जून को होना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.