ताज़ा खबर
 

गैंगरेप के आरोपी और पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के दो बेटे अन्य आरोपियों को पनाह देने के आरोप में गिरफ्तार

सूत्रों की माने तो मंगलवार या बुधवार को गायत्री प्रजापति कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं।

प्रजापति पर गैंगरेप के साथ ही वीडियो बनाने का मामला दर्ज किया गया है। (photo source – Indian express)

सामूहिक बलात्कार के मामले में मुख्य आरोपी और उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति के दोनों बेटों को लखनऊ पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। दोनों पर आरोप है कि उन्होंने इस केस से जुड़े अन्य आरोपियों को अपने घर में पनाह दी थी। सूत्रों की माने तो मंगलवार या बुधवार को गायत्री प्रजापति कोर्ट में सरेंडर कर सकते हैं। सरेंडर की जानकारी मिलने के बाद कोर्ट के बाहर सादे कपड़ों में पुलिस को तैनात किया गया है। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस प्रजापति और अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह छापेमारी कर रही है। इससे पहले पुलिस ने प्रजापति के गनर और आरोपी चंद्रपाल को गिरफ्तार किया था। प्रजापति को पकड़ने के लिए पुलिस ने 6 टीमों का गठन किया है। वहीं खुफिया एजेंसी ने भी एयरपोर्ट पर अलर्ट जारी किया हुआ है ताकि प्रजापति देश से बाहर न भाग सके।

आपको बता दें कि एक महिला ने प्रजापति पर आरोप लगाया है कि मंत्री ने उसे सपा का बड़ा चेहरा बनाने का झांसा देकर अक्तूबर 2014 से दो साल तक उसके साथ बलात्कार किया। मंत्री व उनके सहयोगियों पर महिला का वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल करने व सामूहिक बलात्कार का आरोप है। महिला का कहना है कि 2016 में मंत्री के जन्मदिन पर उसे बुलाया गया था। उसकी नाबालिग बेटी के साथ भी छेड़छाड़ की गई थी। महिला का आरोप है कि प्रजापति के सरकारी आवास पर उसका आना जाना था। मंत्री के पुराने साथी अशोक तिवारी उसे बुलाकर मंत्री के पास लाते थे।

HOT DEALS
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 14210 MRP ₹ 30000 -53%
    ₹1500 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 16999 MRP ₹ 17999 -6%
    ₹2000 Cashback

गौरतलब है कि मंत्री रहते हुए प्रजापति पर कई भ्रष्टाचार के आरोप भी लगे जिसके चलते मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रजापति का मंत्री पद वापस ले लिया था लेकिन कुछ समय बाद उसे फिर से मंत्री पद दे दिया गया। विधानसभा चुनावों में गायत्री प्रजापति सपा के टिकट पर अमेठी से चुनाव मैदान में थे लेकिन रेप का मामला सामने आने के बाद उनकी गिरफ्तारी की मांग उठनी लगी और वो फरार हो गया। केस दर्ज किए जाने के बाद भी गायत्री प्रजापति चुनाव प्रचार करते रहे लेकिन पुलिस उनको गिरफ्तार नहीं कर पाई।

 

 

देखिए वीडियो - जानिए कौन हैं मुलायम सिंह के करीबी कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रजापति; गैंगरेप केस में कैसे आया नाम

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App