ताज़ा खबर
 

यूपी इन्वेस्टर्स समिट: संस्कृत में निवेशकों का स्वागत करेगा रोबोट, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर रहेगा खास जोर

इस रोबोट को बनाने वाले इंजीनियर मिलिंद राज ने कहा कि यह रोबोट अभी भी सीख रहा है। डेटा संग्रह करने के बाद यह इंसानों से भी बुद्धिमान हो जाएगा। यह रोबोट अपने सामने आने वाले शख्स की का रेटिना भी स्कैन कर सकता है।

यूपी की राजधानी लखनऊ में 21 फरवरी से देश-विदेश के 250 से ज्यादा निवेशक इकट्ठा होंगे।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 21 फरवरी से दुनिया के नामी-गिरामी निवेशकों का सम्मेलन होने जा रहा है। इस सम्मेलन के जरिये योगी सरकार प्रदेश में निवेश की संभावनाओं को दुनिया के सामने रखेगी और पूंजीपतियों से निवेश का आग्रह करेगी। इस सम्मेलन को सरकार बेजोड़ बनाने की तैयारी में है। निवेशकों के इस सम्मेलन का खास आकर्षण होगा एक रोबोट। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की खासियतों से लैस इस रोबोट में तीन भाषाओं में मेहमानों का स्वागत करेगा। यह रोबोट हिन्दी, संस्कृत और अंग्रेजी समझने-बोलने में प्रवीण है। सम्मेलन में पहुंचे मेहमानों का स्वागत भी यह रोबोट इन तीन भाषाओं में करेगा। यहीं नहीं रोबोट में खास सिक्युरिटी फीचर्स लगाये गये हैं, इसके जरिये यह रोबोट सम्मेलन में मौजूद लोगों को पर निगार रख सकेगा। जिस कंपनी ने इस रोबोट को तैयार किया है उसका कहना है कि यह रोबोट इंसानों के व्यवहार का अध्ययन कर उसका डेटाबेस तैयार करेगा, फिर वह उसकी नकल भी कर सकता है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस रोबोट को बनाने वाले इंजीनियर मिलिंद राज ने कहा कि यह रोबोट अभी भी सीख रहा है। डेटा संग्रह करने के बाद यह इंसानों से भी बुद्धिमान हो जाएगा। यह रोबोट अपने सामने आने वाले शख्स की का रेटिना भी स्कैन कर सकता है। इस निवेशक सम्मेलन में देश की जानी-मानी हस्तियां शामिल होंगी। राष्ट्रपत रामनाथ कोविंद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कई केन्द्रीय मंत्री और विभिन्न कंपनियों के सीईओ शामिल होंगे। सम्मेलन में यूपी में निवेश के लिए कई समझौतों पर भी हस्ताक्षर किये जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App