ताज़ा खबर
 

अवैध संबंधों का विरोध करने पर पत्नी और आठ महीने के बेटे को तेल छिड़ककर जलाया

पिंकू यादव का गांव की ही रहने वाली दलित युवती से काफी समय से प्रेमप्रसंग था। इस बात को लेकर उसका अपनी पत्नी रिंकी से विवाद होता था।

Author बाराबंकी   | Updated: January 27, 2016 6:32 PM
21 फरवरी को पंचगढ़ जिले के सोनापोटा गांव में श्री श्री शांतू संत गौरी मंदिर के मुख्य पुजारी जगनेश्वर राय की निर्मम हत्या कर दी गई थी।

अवैध संबंध का विरोध करने पर एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी और आठ महीने के बच्चे को जिंदा जला दिया। पुलिस सूत्रों ने बुधवार को यहां बताया कि सतरिख थाना क्षेत्र के रामपुर गांव निवासी पिंकू यादव का गांव की ही रहने वाली दलित युवती से काफी समय से प्रेमप्रसंग था। इस बात को लेकर उसका अपनी पत्नी रिंकी से विवाद होता था। इसी मामले को लेकर मंगलवार को विवाद इतना बढा कि गुस्से में आकर पिंकू ने घर में रखा केरोसिन रिंकी पर डाल कर आग लगा दी, जिसकी चपेट में आकर महिला और उसका आठ माह का बच्चा गंभीर रूप से झुलस गया।

पुलिस ने बताया कि इस वारदात में बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं रिंकी के साथ साथ उसे बचाने आयी सास और देवर भी बुरी तरह झुलस गये। उन्हें लखनऊ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है , जहां रिंकी की हालत गंभीर बतायी जाती है। महिला के परिजनों की तहरीर पर पुलिस मौके पर पहुंच गयी है और आरोपी पति के खिलाफ कार्यवाही करना शुरू कर दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories