अखिलेश ने कहा-‘पार्टी नेतृत्व कहे तो मुख्यमंत्री पद छोड़ सकता हूं लेकिन, टिकटों का बटवारा मैं ही करूंगा’

अखिलेश ने माना कि सपा नेतृत्व द्वारा पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रमुख पद से हटाये जाने से उन्हें दुख हुआ है। उन्होंने पार्टी में विवाद की वजह किसी बाहरी व्यक्ति को बताया।

Akhilesh Yadav, Uttar Pradesh CM, UP Election 2017, Assembly Election in UP, Samajwadi Party, Shivpal Singh Resignation, Controversy in Samajwadi party, Chunav Manch Programअखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री की कुर्सी को पार्टी और परिवार में मची कलह की वजह बताया है।(File Photo)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के अंदर जारी घमासान पर आखि्पर अपनी चुप्पी तोड़ी। लखनऊ में न्यूज चैनल इंडिया टीवी के कार्यक्रम ‘चुनाव मंच’ में बोलते हुए अखिलेश ने इस बात का खंडन किया कि सपा और उनके परिवार में उनकी वजह से विवाद खड़ा हुआ है। उन्होंने बातचीत के दौरान कहा कि मैं नौजवान हूं शायद इसीलिए कड़े फैसले ले सकने में सक्षम हूं। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव के लिए भले ही वो मुख्यमंत्री पद की दावेदारी छोड़ सकते हैं लेकिन टिकट का बटवारा वही करेंगे। अखिलेश ने माना कि सपा नेतृत्व द्वारा पार्टी के उत्तर प्रदेश प्रमुख पद से हटाये जाने से उन्हें गहरा दुख हुआ है। उन्होंने कहा, ‘अगर पार्टी नेतृत्व मुझसे सभी पद से हटने के लिए कहता है तो मैं हट जाउंगा लेकिन, टिकट बटवारे का अधिकार मेरे मुझे देना होगा।’

मैं जिस कुर्सी पर हूं वही विवाद की वजह है: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने इस दौरान कहा कि नेता जी (मुलायम सिंह यादव) पार्टी के अंदर मची खींचतान को जरूर सुलझा लेंगे। अखिलेश ने कहा,’जो भी विवाद है नेता जी उसे सुलझा लेंगे और उनका जो भी फैसला होगा हम मानेंगे, आखिर वे मेरे पिता और उनके (शिवपाल) भाई हैं। बेटा होने के नाते मेरी यह जिम्मेदारी है कि मैं नेता जी के आदेश को मानू। गायत्री प्रजापति को कैबिनेट में फिर से वापस लाने के नेता जी के फैसले को मैने स्वीकार किया।’ अखिलेश ने कहा, ‘समाजवादी पार्टी में मैने किसी विवाद को जन्म नहीं दिया। यहां किसी प्रकार का झगड़ा नहीं है बस असहमति है। यह विवाद मेरी वजह से नहीं बल्कि जिस कुर्सी पर मैं बैठा हूं उसकी वजह से पनपा है।’ शिवपाल यादव के बारे में अखिलेश ने कहा, ‘वह मेरे चाचा जी हैं, मैने उनका इस्तीफा नहीं मंजूर किया।’

‘अच्छे दिन’ का वादा करने वालों से कर लें हमारे काम की तुलना: अखिलेश ने परिवार और पार्टी के अंदर पैदा हुए विवाद की वजह किसी बाहरी व्यक्ति को बताया। उन्होंने कहा, ‘इस विवाद की जड़ में कोई बाहरी है, जिसे सब जानते हैं। मैने नेता जी से कहा है कि यदि हमारे बीच कोई बाहरी व्यक्ति आता है तो हम उसे बाहर कर देंगे। उन्होंने और मैने यह निश्चय किया है कि अपने बीच किसी बाहरी को नहीं आने देंगे।अखिलेश यादव ने अपनी सरकार की उपलब्धियों के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि आप हमारे विकास कार्यों की तुलना उनसे कर सकते हैं जिन्होंने अच्छे दिन लाने का वादा किया था। अखिलेश ने लखनऊ मेंट्रो प्रोजेक्ट का उदाहरण भी पेश किया।

Read Also: CM अखिलेश ने कहा- जिस कुर्सी पर बैठा हूं, उसकी वजह से हो रहा झगड़ा

वाराणसी में 24 घंटे बिजली केंद्र सरकार की नहीं हमारी देन है: राहुल गांधी पर बोलते हुए उन्होंने कहा, ‘राहुल कहते हैं कि हमारी साइकिल पंक्चर हो गई है। दरअसल, वो किसानों को मुर्ख बना रहे हैं। उन्हें पता है कि साइकिल अब ट्यूबलेस टायर के साथ आती है। प्रदेश की जनता हमारी सरकार पर भरोसा करती है। हमने जो भी वादे किए थे उसे पूरा किया है। अखिलेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के बारे में कहा, ‘वाराणसी में 24 घंटे बिजली केन्द्र सरकार की नहीं बल्कि हमारी वजह से है। हमारी सरकार अक्टूबर से प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में 16 से 18 घंटे और शहरों में 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराएगी।

Read Also: कांग्रेस के हाथ से फिर निकला अरुणाचल प्रदेश, सीएम खांडू समेत 44 विधायकों ने पार्टी छोड़ी

Next Stories
1 यूपी: बिजनौर में छेड़छाड़ के बाद साम्प्रदायिक हिंसा, गोलीबारी में चार की मौत
2 CM अखिलेश ने कहा- अब बीच के किसी आदमी को नहीं आने देंगे, जिस कुर्सी पर बैठा हूं, उसकी वजह से हो रहा झगड़ा
3 घर के बाहर समर्थकों से मिले शिवपाल यादव, कहा- जाकर नेताजी से बात करो
यह पढ़ा क्या?
X